हिमाचल प्रदेश में ‘Monkeypox’ बीमारी का मिला संदिग्ध मामला, जानिए क्या है चौकाने वाला तथ्य ?

देश में कोरोना महामारी का प्रकोप अभी तक खत्म नहीं हुआ है और इतने में एक और बीमारी परेशान करने लगी है। बता दें हालही में मंकीपॉक्स बीमारी के केस भी भारत में देखें गए है जिसके बाद भारत में इस बीमारी का डर बना हुआ है। साथ ही साथ अब एक और चौका देने वाला मामला सामने आया है।

देश में कोरोना महामारी का प्रकोप अभी तक खत्म नहीं हुआ है और इतने में एक और बीमारी परेशान करने लगी है। बता दें हालही में मंकीपॉक्स बीमारी के केस भी भारत में देखें गए है जिसके बाद भारत में इस बीमारी का डर बना हुआ है। साथ ही साथ अब एक और चौका देने वाला मामला सामने आया है।
 भारत में भी इस बीमारी के मरीज मिल रहे 
 सूत्रों के मुताबिक हिमाचल प्रदेश के सोलन में मंकीपॉक्स का मरीज मिला है। लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि मरीज की कोई भी फॉरेन ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। अधिकारियों ने बताया है कि हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मरीज सामने आया है. मरीज के सैंपल लेकर पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजे गए हैं, जिससे मंकीपॉक्स की पुष्टि हो सके। 
 मरीज की कोई भी फॉरेन ट्रैवल हिस्ट्री नहीं आई सामने 
इस बीमारी में लक्षणों कि बात करें तो इस बीमारी में लोगों को लक्षण कुछ-कुछ चिकन पॉक्स जैसे दिखाई दे रहे है, फिलहाल भारत में भी इस बीमारी के इलाज के लिए वैक्सीन बनाने का काम शुरू कर दिया गया  है। बात अगर राजधानी के करे तो अस्पताल भी तय कर दिए गए है की कौन सा अस्पताल इस बीमारी का इलाज करेगा। लेकिन आखिरी में देखना ये होगा कि कैसे भारत इस बीमारी से पीछा छुड़वाता है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − 9 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।