लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

तमिलनाडु : मछुआरों को IMBL पार करने से रोकने के लिए तटरक्षक बल बढ़ाएंगे गश्त, चालू की इंटरसेप्टर नाव

भारतीय मछुआरों को अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा (आईएमबीएल) पार करने और श्रीलंकाई मछुआरों को भारतीय जलक्षेत्र में जाने से रोकने के लिए तटरक्षक बल और समुद्री तटीय पुलिस गश्त तेज करेगी।

देश के दक्षिण राज्य तमिलनाडु के समुद्री इलाकों में भारतीय मछुआरों को अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा (आईएमबीएल) पार करने और श्रीलंकाई मछुआरों को भारतीय जलक्षेत्र में जाने से रोकने के लिए तटरक्षक बल और समुद्री तटीय पुलिस गश्त तेज करेगी। भारतीय मछुआरों का मुख्य रूप से तमिलनाडु से श्रीलंकाई जल में अंतर्राष्ट्रीयसमुद्री सीमा रेखा पार करना श्रीलंकाई अधिकारियों द्वारा भारतीय मछुआरों की गिरफ्तारी के विरोध में मछुआरा संगठनों के साथ दोनों देशों के बीच टकराव का एक प्रमुख मुद्दा रहा है। वर्तमान में 92 भारतीय मछुआरे श्रीलंकाई अधिकारियों की हिरासत में हैं। गिरफ्तार मछुआरों की नौकाओं को भी श्रीलंकाई अधिकारियों ने जब्त कर लिया है।
सीएम स्टालिन ने पीएम मोदी और विदेश मंत्री को गई दी जानकारी
इसी तरह, भारतीय अधिकारियों ने श्रीलंकाई मछुआरों को भी हिरासत में ले लिया है, जो आईएमबीएल को पार करते हुए भारतीय सीमा में घुस गए थे। मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर को श्रीलंकाई अधिकारियों द्वारा तमिलनाडु से भारतीय मछुआरों की गिरफ्तारी के साथ-साथ उनकी मशीनीकृत नौकाओं को जब्त करने के बारे में बताया है। तटरक्षक बल ने शुक्रवार को एक नई इंटरसेप्टर नाव, सी-436 चालू की और अब यह कराईकल में स्थित है। इस नाव का इस्तेमाल मुख्य रूप से तमिलनाडु और पुडुचेरी के समुद्र तट पर निगरानी के लिए किया जाएगा। नाव में चालक दल के रूप में एक अधिकारी और 12 नामांकित कर्मी होंगे।  
आईएमबीएल पार करने से रोकने के लिए किया जाएगा नाव का उपयोग
नाव का उपयोग समुद्र में आपराधिक गतिविधियों को देखने के साथ-साथ मछुआरों को आईएमबीएल (इंटरनेशनल मेरीटाइम बाउंड्री लाइन ) पार करने से रोकने के लिए भी किया जाएगा, क्योंकि पोत के पास समुद्र में किसी भी अपराध को रोकने के लिए आवश्यक पहुंच, भरण-पोषण और आधुनिक उपकरण हैं। पोत अत्याधुनिक नेविगेशन और संचार उपकरणों से सुसज्जित है। नाव बॉडरिंग, खोज और बचाव कार्यों, कानून प्रवर्तन और समुद्री गश्त के लिए एक हवा वाली नाव ले जा सकती है। तटरक्षक बल के पास अब दो इंटरसेप्टर नौकाओं के साथ चार नावों का एक बेड़ा है – जिसमें सी-435 और सी-436 और अपतटीय गश्ती जहाज, ‘आईसीएसजी अमेया’ और ‘आईसीजीएस रानी दुर्गावती’ शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।