बंगाल में TMC नेता अल्ताफ शेख की गोली मारकर हत्या, पार्टी ने विपक्षी दल पर जताई आशंका

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर एक बार फिर से प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों को लेकर खड़े हुए हैं। राज्य के मुर्शिदाबाद जिले में तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता अल्ताफ शेख को मंगलवार की शाम जब वह घर लौट रहे थे तो उनकी हत्या कर दी गई

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर एक बार फिर से प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों को लेकर खड़े हुए हैं। दरअसल राज्य के मुर्शिदाबाद जिले में तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेता अल्ताफ शेख को मंगलवार की शाम जब वह घर लौट रहे थे तो कुछ बदमाश उनपर आ धमके और उनपर गोली चलाकर उन्हें लहूलुहान कर दिया। बुधवार को उनकी एक अस्पताल में मृत्यु हो गई। यह जानकारी पुलिस ने बुधवार को दी। 
रानीनगर क्षेत्र में मारी गई गोली
इस मामले पर अधिक जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि मृतक अल्ताफ शेख नोवादापाड़ा मदरसा के हेडमास्टर थे। उनकी सुबह अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। उन्हें मंगलवार रात 9.15 बजे के आसपास रानीनगर क्षेत्र में नजदीक से गोली मारी गई थी। जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने फोन पर समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि हमने एक जांच शुरू की है और अपराधियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।
TMC ने जताया विपक्षी पार्टी आशंका
टीएमसी के नेता और सांसद शांतनु सेन ने कहा, हत्या में विपक्षी दलों की संलिप्तता की आशंका को खारिज नहीं किया जा सकता, क्योंकि पंचायत चुनाव से पहले अशांति का माहौल बनाने का प्रयास किया जा रहा है।
बता दें कि टीएमसी में शामिल होने से पहले शेख माकपा में थे। पश्चिम बंगाल में ग्रामीण चुनाव इस साल होने वाले हैं। इसको लेकर राज्य में राजनीतिक गतिविधियां भी तेज हैं।
पंचायत चुनावों में टीएमसी को हराने की अपील
वहीं, दूसरी ओर पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजुमदार और पार्टी नेता मिथुन चक्रवर्ती ने मंगलवार को राज्य के पंचायत चुनाव में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को हराने की लोगों से अपील की। पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई में पंचायत चुनाव होगा। मजुमदार ने नदिया जिले के बगुला में आयोजित एक रोड शो में भाग लेने के बाद अभिनेता एवं नेता मिथुन चक्रवर्ती के साथ एक रैली में हिस्सा लिया।
रैली के संबोधिन में मजुमदार का बयान 
रैली को संबोधित करते हुए मजुमदार ने कहा, हमें राज्य के आगामी पंचायत चुनाव में भ्रष्ट टीएमसी सरकार को हराना होगा। टीएमसी हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनाव लड़ने से रोकने के लिए पैसे से लेकर बाहुबल तक हर चीज का इस्तेमाल करेगी। लेकिन हमें उन्हें इसका जवाब देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।