बिहार शराबकांड को लेकर बोले पशुपति कुमार, हादसे में अमीर नहीं बस गरीब मर रहे है

छपरा में ज़हरीली शराब से मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है । जहाँ ज़हरीली शराब हादसे में केन्द्रीय मंत्री का बड़ा बयान सामने आया छपरा में जहरीली शराब हादसे में केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा कि मौत की संख्या अभी 40 बताई जा रही है, लेकिन यह संख्या 50 के पार जाएगी।

 
छपरा  में ज़हरीली शराब से मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है । जहाँ ज़हरीली शराब हादसे में केन्द्रीय मंत्री का बड़ा बयान सामने आया  छपरा में जहरीली शराब हादसे में केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा कि मौत की संख्या अभी 40 बताई जा रही है, लेकिन यह संख्या 50 के पार जाएगी।  
ज़हरीली शराब से मौत का मामला पकड़ रहा  तूल
 बिहार के छपरा में बुधवार को जहरीली शराब से 20 से अधिक लोगों की जान चली गई।यह संख्या लगातार बढ़ भी रही है। छपरा में हुई जहरीली शराब से मौत के सवाल पर केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा कि “अभी तो संख्या 40 बताई जा रही है, लेकिन यह संख्या 50 के पार जाएगी।ये नरसंघार हो जाएगा, ये जो घटना घट रही है इसमें कोई अमीर नहीं सिर्फ गरीब मर रहे हैं।कुछ ऐसे भी हैं जो जेल में बंद है उनके पास पैसा नहीं है कि बेल करा लें।
वहीं आगे पशुपति कुमार पारस ने कहा :
“विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान जहरीली शराब हादसे के सवालों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहते हैं कि सबको सदन से बहार निकालो।सदन इनका तो नहीं है सदन बिहार की हर एक जनता का है।बिहार सरकार शराबबंदी में पूरी तरह विफल हो गई है।रक्षक अब भक्षक बन चुका है और प्रशासन कुछ नहीं कर रहा है।आज तक बिहार में कभी ऐसा नहीं हुआ कि कोई मुख्यमंत्री बोल दें इनको सदन से बाहर निकालो, यह अच्छी बात नहीं है मैं इसकी निंदा करता हूं।वहीं नीतीश सरकार के मंत्री समीर कुमार महासेठ   ने कहा कि बिहार में एक नंबर की दारू नहीं आ रही है।शराब नहीं जहर आ रहा है, कृपया लोग न पिएं।अगर लोग जहर पी कर मर रहे हैं तो गलत कर रहे हैं।
मंत्री समीर महासेठ ने कहा:
 उन्होंने कहा इस तरीके की कोई भी चीज लेते हैं तो यह स्लो पॉइजनिंग है।समीर महासेठ ने कहा कि लोग खूब दौड़ें, खूब खेलें और शरीर बनाएं।शराब जैसी चीजों का त्याग करें. बिहार में मिल नहीं रही है, गलत तरीके से लोग बिहार में इसे ठेल रहे हैं।बिहार में जहर परोसा जा रहा है।अगर आप यह सोच लें कि जहर है और पीने से हमारी किडनी डैमेज होती है, ब्रेन डैमेज होता है और इससे हमारा बिहार आगे नहीं बढ़ रहा है तो इन सब चीजों से बचने की जरूरत है.बहरहाल मंत्री का ब्यान चर्चा का विषय बना हुआ है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।