हिमाचल विश्वविद्यालय में मचा बवाल, लेफ्ट-राइट फिर आमने-सामने, पुलिस ने डाला डेरा

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के कार्यकर्ताओं में हुए हिंसक झड़प के बाद विश्वविद्यालय में पुलिस डेरा डालकर बैठ गई हैं।

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के कार्यकर्ताओं में हुए हिंसक झड़प के बाद विश्वविद्यालय में पुलिस डेरा डालकर बैठ गई हैं। मिली जानकारी के अनुसार, यूनिवर्सिटी प्रशासन इस झड़प में शामिल छात्रों पर सख्त कार्रवाई करने के मोड में हैं। एसएफआई और एबीवीपी कार्यकर्ताओं के बीच लड़ाई मंगलवार सुबह शुरू हुई। यह पहली बार नहीं है जब दोनों छात्र गुट भिड़े हो। 
जानें क्यों शुरू हुआ विवाद 
विश्वविद्यालय के गेट पर दोनों छात्र गुटों में कमेंट पास करने को लेकर कहासुनी शुरू हुई। देखते-देखते यह विवाद हिंसक हो गया। घटना के तूल पकड़ते ही छात्र नेता लाठी-डंडे लेकर पहुंच गए। दोनों तरफ से एक-दूसरे की ओर पत्थर बरसाए गए। इस झड़प में कम से कम 10 छात्र-छात्राएं जख्मी हो गए। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में आए दिन एसएफआई और एबीवीपी के कार्यकर्ताओं में लड़ाई होती रहती है। ताजा घटना को लेकर यूनिवर्सिटी प्रशासन भी सख्त नजर आ रहा है। 
वैचारिक मतभेद के नाम पर झड़प 
विश्वविद्यालय परिसर में एंट्री के लिए आईडेंटिटी कार्ड चेक किए जा रहे हैं। बाहर से आने वाले लोगों की एंट्री पर भी रोक लगा दिया गया है। पुलिस भी कैंपस में पहरा दे रही है। छात्र संगठनों की लड़ाई में मुख्य रूप से पढ़ाई करने आ रहे विद्यार्थी प्रताड़ित हो रहे है।  बता दें कि देश के तमाम राज्यों में ऐसी घटना अब आम हो चुकी है। छात्र वैचारिक मतभेद के नाम पर एक-दूसरे को नुकसान पहुंचाने में लगे रहते है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।