Uttarakhand: उत्तराखंड के स्थापना दिवस पर धामी ने गैरसैंण में 28 योजनाओं का लोकार्पण किया

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को उत्तराखंड के स्थापना दिवस पर चमोली जिले में स्थित प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में 11736 लाख रू की 28 योजनाओं का लोकार्पण एवं लगभग 4948 लाख रू की 22 योजनाओं का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को उत्तराखंड के स्थापना दिवस पर चमोली जिले में स्थित प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में 11736 लाख रू की 28 योजनाओं का लोकार्पण एवं लगभग 4948 लाख रू की 22 योजनाओं का शिलान्यास किया।
उत्तराखंड में हर जगह आज विकास के कार्य देखने को मिल रहे हैं
विधानसभा परिसर में आयोजित कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी के साथ राज्य आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद अपने संबोधन में धामी ने कहा कि आज उत्तराखंड प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में विकास के विभिन्न आयामों को छू रहा है ।उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में हर जगह आज विकास के कार्य देखने को मिल रहे हैं और प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप सुदूर क्षेत्रों को भी विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है ।धामी ने कहा कि स्थानीय उत्पादों एवं उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार निरंतर प्रयासरत है।
On his birthday uttarakhand CM pushkar singh Dhami reached among the  differently-abled children - अपने जन्मदिन पर दिव्यांग बच्चों के बीच पहुंचे  सीएम धामी, बोले-यहां आकर अभिभूत हूं
भारत-चीन सीमा पर स्थित माणा गांव में हाल में मोदी के दौरे का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य के उत्पादों की सराहना करते हुए देशवासियों से अपनी यात्रा पर होने वाले व्यय का कम से कम पांच प्रतिशत उन्हें खरीदने में करने का आग्रह किया था और इसका इसका निश्चित रूप से हमारे प्रदेश को लाभ मिलेगा ।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सात हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया गतिमान है और जल्द ही 19 हजार पदों पर भी भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी।
खण्डूरी ने कहा कि 22 साल के सफर में उत्तराखंड ने सफलता के कई मुकाम हासिल किए हैं और वह दृढ़ता पूर्वक विकास के रास्ते पर कदम आगे बढ़ा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष ने इस दौरान कार्यक्रम में उपस्थित सभी महिला समूहों को अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से प्रोत्साहन राशि के रूप में पांच—पांच हजार रुपये देने की भी घोषणा की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × four =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।