रेप का विरोध करने पर दरिंदों ने महिला को आग के हवाले किया, रिम्स अस्पताल में महिला ने तोड़ा दम

रेप की वारदातें देश में लगातार बढ़ती जा रही है जहाँ दरिंदों के जाल में आए दिन कोई न कोई महिला या लड़की फँस जाती है। हाल ही में रुंह कपा देने वाला मामला झारखंड से सामने आया जहाँ दरिंदों ने महिला के साथ पहले रेप किया और फिर उसे आग के हवाले कर दिया इतना ही नहीं अस्पताल में महिला ने दम तोड़ दिया।

रेप की वारदातें देश में लगातार बढ़ती जा रही है जहाँ दरिंदों के जाल में आए दिन कोई न कोई महिला या लड़की फँस जाती है।  हाल ही में रुंह  कपा देने वाला मामला झारखंड से सामने आया जहाँ दरिंदों ने महिला के साथ पहले रेप किया और फिर उसे आग के हवाले कर दिया इतना ही नहीं अस्पताल में महिला ने दम तोड़ दिया। 
बेखौफ अपराधियों ने एक शर्मनाक घटना को अंजाम दिया 
दरअसल  झारखंड के हजारीबाग जिले में बेखौफ अपराधियों ने एक शर्मनाक घटना को अंजाम देते हुए पहले घर में घुसकर महिला से दुष्कर्म की कोशिश की महिला के विरोध के बाद आक्रोशित आरोपियों ने पेट्रोल डालकर महिला को जिंदा जलाने का प्रयास किया ।  इस घटना में महिला गंभीर रूप से झुलस गई है, घटना के बाद महिला को आनन-फानन में हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गय। 
रांची के रिम्स अस्पताल में महिला ने तोडा दम 
जहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टर ने तत्काल राजधानी रांची के रिम्स अस्पताल रेफर कर दिया, फिलहाल महिला का इलाज रांची के रिम्स अस्पताल में डॉक्टर एम सरावगी के यूनिट में चल रहा है ।  महिला 60 से 70 फ़ीसदी तक घटना में झुलस गई है । दरअसल यह खौफनाक घटना हजारीबाग जिले के चरही थाना क्षेत्र के ऊंटमरवा गांव की है।  घटना को लेकर पीड़िता ने पुलिस को बयान दिया है।  पीड़िता महिला का नाम तितली देवी है वही उसके पति का नाम सरदार परमजीत सिंह है। घटना के संदर्भ में पीड़ित महिला ने बताया है कि वह अपने घर में ही किराने की दुकान में बैठी हुई थी।  इसी बीच उसकी ननंद हरजीत कौर, ननंद के बेटे ललित गौरव और एक अन्य युवक ने उसकी इज्जत लूटने की कोशिश की, विरोध करने पर सब ने मिलकर उसके मुंह पर टेप चिपका दिया और पेट्रोल डालकर उसे जिंदा आग के हवाले कर दिया। 
महिला को दरिंदों ने आग के हवाले किया 
आग लगाए जाने के बाद महिला चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे और महिला के शरीर पर लगी आग को बुझाया, हालांकि तब तक महिला बुरी तरह झुलस गई थी, जिसके बाद आनन-फानन में महिला को इलाज के लिए हजारीबाग सदर अस्पताल ले जाया गया , महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने राजधानी रांची के रिम्स अस्पताल रेफर कर दिया गया। 
पहले किया गया दुष्कर्म फिर किया महिला को आग के हवाले 
पीड़ित महिला के पिता ने बताया कि 3 वर्ष पूर्व ही बेटी तितली की शादी हजारीबाग जिले के चरही थाना क्षेत्र के ऊंटमरवा गांव निवासी सरदार परमजीत सिंह के साथ की थी, इसी बीच शनिवार देर शाम मेरी बेटी की ननंद हरजीत कौर जो रांची के मेन रोड की रहने वाली है, उसके दो लड़के और दो अन्य युवकों ने मिलकर मेरी बेटी के साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की, जब मेरी बेटी के द्वारा विरोध किया गया तब आरोपियों ने उसके मुंह पर कपड़ा डालकर पेट्रोल छिड़कर बेटी को जिंदा आग के हवाले कर दिया। अब देखना ये होगा की आरोपी पर क्या कर्यवाही की जाती है फ़िलहाल इस घटना से सभी सकते में आगये हैं । 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − nine =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।