निहंग सिखों और राधा स्वामी सत्संग ब्यास के अनुयायियों के बीच झड़प में 11 लोग घायल

निहंग सिखों और राधा स्वामी सत्संग ब्यास के अनुयायियों के बीच रविवार को उस वक्त झड़प हो गई, जब निहंग सिखों ने अपने मवेशियों को चराने के लिए डेरा परिसर में कथित तौर पर जबरन घुसने की कोशिश की। इस घटना में 10 व्यक्ति और एक पुलिसकर्मी घायल हो गया।

निहंग सिखों और राधा स्वामी सत्संग ब्यास के अनुयायियों के बीच रविवार को उस वक्त झड़प हो गई, जब निहंग सिखों ने अपने मवेशियों को चराने के लिए डेरा परिसर में कथित तौर पर जबरन घुसने की कोशिश की। इस घटना में 10 व्यक्ति और एक पुलिसकर्मी घायल हो गया।
पुलिस ने कहा कि झड़प के दौरान दोनों पक्षों ने एकदूसरे पर पत्थर और ईंट फेंके तथा कुछ व्यक्तियों ने हवा में गोलियां चलायीं।
अमृतसर (ग्रामीण) के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्वप्न शर्मा ने कहा कि निहंगों और डेरा समर्थकों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज किया और अब स्थिति नियंत्रण में है।
डेरा परिसर के आसपास भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किये गये हैं।
पुलिस के अनुसार, निहंगों का एक समूह अपने मवेशियों को चराने के लिए डेरा परिसर में प्रवेश करना चाहता था, लेकिन राधा स्वामी संप्रदाय के अनुयायियों ने इस पर आपत्ति जतायी और उन्हें प्रवेश करने से रोक दिया। पुलिस के अनुसार दोनों पक्षों के बीच इस पर बहस हो गई।
पुलिस के अनुसार, निहंगों में से एक ने कथित तौर पर राधा स्वामी सत्संग ब्यास के एक सुरक्षा प्रभारी पर हमला कर दिया, जिसकी पहचान परमदीप सिंह तेजा के रूप में हुई और उसके कंधे में चोट लगी है।
जंडैला गुरु पुलिस थाने के प्रभारी दविंदर कुमार मौके पर मौजूद थे और उन्होंने हस्तक्षेप करने की कोशिश की और उन्हें भी चोटें आयीं।
पुलिस के अनुसार स्थिति उस वक्त बिगड़ गई, जब निहंगों के समूह ने फिर से डेरा परिसर में जबरन घुसने की कोशिश की, जिससे दोनों समूहों के बीच झड़प हुई।
डेरा समर्थकों का दावा है कि निहंगों ने डेरा परिसर के एक प्रवेश द्वार को तोड़ दिया।
पुलिस अधिकारी के अलावा दोनों पक्षों के कुल 10 लोग घायल हुए हैं।
घायलों को बाबा बकाला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
इस बीच, पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने सभी से शांत रहने और गलत सूचना फैलाने से बचने की अपील की।
वडिंग ने ट्वीट किया, ‘‘राधा स्वामी डेरा, ब्यास से परेशान करने वाली खबर आ रही है, जहां एक विवाद… के कारण हिंसक घटना हुई। कुछ लोगों के घायल होने की सूचना है। सभी से शांत रहने और सोशल मीडिया पर कोई गलत सूचना न फैलाने की अपील है।’’
शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने भी लोगों से शांति और सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने की अपील की।
बादल ने ट्वीट किया, ‘‘ब्यास में हुई हिंसा बेहद परेशान करने वाली है। बार-बार झड़पें और कानून-व्यवस्था भंग होना राज्य को अराजकता की ओर धकेल रहा है। मैं (मुख्यमंत्री) भगवंत मान से तत्काल स्थिति से निपटने का आग्रह करता हूं। मैं पंजाबियों से भी इस महत्वपूर्ण समय पर शांति एवं सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने की अपील करता हूं।’’
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।