पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह

सिद्धू के सलाहकार मोहम्मद मुस्तफा का एक वीडियो सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने पार्टी पर नफरत का माहौल का पैदा करने का आरोप लगाया है।

पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मोहम्मद मुस्तफा का एक वीडियो सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने पार्टी पर नफरत का माहौल का पैदा करने का आरोप लगाया है। पंजाब के चुनाव प्रभारी शेखावत ने इस वीडियो पर चुनाव आयोग से करवाई की मांग की है। 
मोहम्मद मुस्तफा के वीडियो को शेयर करते हुए शेखावत ने ट्वीट कर कहा , ये जनाब पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू जी के सलाहकार, पंजाब के पूर्व डीजीपी और पंजाब सरकार की मंत्री श्रीमती रजिया सुल्ताना के पति मोहम्मद मुस्तफा हैं। वोट नहीं, कौम के लिए लड़ने की बात कहते हुए हिंदुओं को चैलेंज करते हैं।
पाक PM से गले मिलने को लेकर सिद्धू पर बरसे शेखावत 
केंद्रीय मंत्री ने सिद्धू के पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से गले मिलने का जिक्र करते हुए अपने अगले ट्वीट में कहा, घर में घुसकर मारने की बात कहते हैं। सभा न होने देने की धमकी देते हैं। कांग्रेस ने पंजाब में हिंदुओं के खिलाफ कैसा वातावरण बना रखा है, इस वीडियो से स्पष्ट हो जाता है। अब सभी को समझ आ जाएगा कि क्यों सिद्धू साहब पाकिस्तान जाकर इमरान खान से गले मिलते हैं।
पंजाब चुनाव को लेकर बीजेपी के विजन के बारे में बताते हुए शेखावत ने कहा, यही वो नफरत है, जिसे खत्म करने के लिए बीजेपी पंजाब के चुनावी रण में सबको साथ लेकर चलने की अवधारणा रखते हुए उतरी है। पंजाबियत को सुरक्षित रखना है तो कांग्रेस की छत्रछाया में पनप रहे मोहम्मद मुस्तफा जैसे लोगों को मुख्यधारा से बाहर करना होगा।


चुनाव आयोग से कार्रवाई करने की मांग करते हुए केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कहा, ये लोग देश के अंदर ही धार्मिक लड़ाई लड़ना चाहते हैं। हिंदुओं को निशाना बनाना चाहते हैं। भारत की अखंडता को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं। चुनाव आयोग को भी इस वीडियो पर संज्ञान लेना चाहिए।

भाषा को आपत्तिजनक बताने के साथ-साथ कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन नहीं करने का आरोप लगाते हुए पंजाब चुनाव प्रभारी शेखावत ने कहा, भाषा तो आपत्तिजनक है ही, कोविड-19 के प्रोटोकॉल का भी पालन नहीं हो रहा। यह सभा कोविड के संक्रमण के साथ साथ साम्प्रदायिक असामंजस्य को भी आमंत्रण दे रही थी।
वहीं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग ने कांग्रेस पर पंजाब को 1984 की तरह एक बार फिर से दंगों की आग में धकेलने का आरोप लगाया है। बता दें कि पंजाब में विधानसभा की सभी 117 सीटों पर 20 फरवरी को चुनाव होना है और उससे पहले सामने आए इस वीडियो ने कांग्रेस के खिलाफ बीजेपी को एक बड़ा चुनावी मुद्दा थमा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − 11 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।