मूसेवाला हत्याकांड : छठा शार्पशूटर दीपक मुंडी, दो अन्य सहयोगियों के साथ नेपाल सीमा से गिरफ्तार

पंजाब पुलिस ने केंद्रीय एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के साथ एक संयुक्त अभियान में शनिवार को शार्पशूटर दीपक मुंडी और उसके दो अन्य सहयोगियों को प्रसिद्ध पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की सनसनीखेज हत्या में कथित संलिप्तता के आरोप में पश्चिम बंगाल-नेपाल सीमा से गिरफ्तार किया।

पंजाब पुलिस ने केंद्रीय एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के साथ एक संयुक्त अभियान में शनिवार को शार्पशूटर दीपक मुंडी और उसके दो अन्य सहयोगियों को प्रसिद्ध पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की सनसनीखेज हत्या में कथित संलिप्तता के आरोप में पश्चिम बंगाल-नेपाल सीमा से गिरफ्तार किया। एक खुफिया-आधारित ऑपरेशन के बाद, डीजीपी गौरव यादव ने कहा कि हत्या में शामिल छठे और अंतिम फरार शार्पशूटर मुंडी को उसके दो सहयोगियों कपिल पंडित और राजिंदर के साथ पंजाब पुलिस के एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (एजीटीएफ) ने पश्चिम बंगाल में नेपाल सीमा के पास से गिरफ्तार किया था।
यादव ने कहा कि मुंडी बोलेरो मॉड्यूल में शूटर था, जबकि कपिल पंडित और राजिंदर ने हथियार और ठिकाने सहित रसद सहायता प्रदान किए। इससे पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शार्पशूटर प्रियव्रत फौजी, कशिश और अंकित सेरसा को गिरफ्तार किया था, जबकि मनप्रीत मनु और जगरूप सिंह रूपा को पंजाब पुलिस ने मार गिराया था। मनु और रूपा, जो जग्गू भगवानपुरिया गिरोह के सदस्य माने जाते हैं, जिन्होंने मूसेवाला की हत्या के लिए लॉरेंस बिश्नोई को कथित तौर पर शार्पशूटर मुहैया कराए थे, 20 जुलाई को अमृतसर जिले में भारत-पाकिस्तान सीमा के पास एक मुठभेड़ में मारे गए थे। पुलिस के मुताबिक, दोनों बदमाशों ने सीमा से करीब 14 किलोमीटर दूर भकना गांव के पास एक सुनसान घर में शरण ली थी, तभी पुलिस ने उन्हें मार गिराया। पंजाब के मनसा जिले में 29 मई को सिद्धू मूसेवाला के नाम से मशहूर शुभदीप सिंह सिद्धू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 20 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।