Search
Close this search box.

जेल की रोटी खाने से नवजोत सिंह सिद्धू ने किया इंकार… अब पहुंचे अस्पताल, जानें क्या है पूरा मामला

34 साल पुराने रोडरेज केस में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई सजा काट रहे पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू इन दिनों पटियाला जेल में बंद हैं।

34 साल पुराने रोडरेज केस में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई सजा काट रहे पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू इन दिनों पटियाला जेल में बंद हैं, मिली जानकारी के मुताबिक नवजोत सिद्धू ने जेल की दाल-रोटी खाने से साफ इंकार कर दिया है। अब उन्हें पटियाला के राजिंद्र अस्पताल ले जाया गया है जहां उनका मेडिकल चेकअप हो रहा है। दरअसल सिद्धू के डाइट प्लान को तैयार करने के लिए पटियाला जेल प्रशासन ने इस मेडिकल टीम का गठन किया है।
सिद्धू ने जेल में की स्पेशल डाइट की मांग
प्रशासन द्वारा गठित यह टीम सिद्धू का चेकअप करके यह सुनिश्चित करेगी उन्हें किस तरह के डाइट प्लान की जरूरत है। बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने जेल प्रशासन के सामने यह दावा किया है कि उन्हें गेहूं से एलर्जी है यही कारण है कि वह जेल की रोटी नहीं खा सकते हैं, लंबे समय से उन्होंने रोटी का सेवन नहीं किया है इसलिए उन्होंने जेल में स्पेशल डाइट की मांग की है। इस मामले में कोर्ट ने उनका मेडिकल चेकअप करवाकर शाम 4 बजे तक रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया है।  

1653287634 2

जानें क्या है रोडरेज का पूरा मामला   
बताते चलें कि सिद्धू और उनके सहयोगी रुपिंदर सिंह संधू 27 दिसंबर 1988 को पटियाला में शेरांवाला गेट क्रॉसिंग के पास एक सड़क के बीच में खड़ी एक जिप्सी में थे। उस समय गुरनाम सिंह और दो अन्य लोग पैसे निकालने के लिए बैंक जा रहे थे। जब वे चौराहे पर पहुंचे तो मारुति कार चला रहे गुरनाम सिंह ने जिप्सी को सड़क के बीच में पाया और उसमें सवार सिद्धू और संधू को इसे हटाने के लिए कहा। इससे दोनों पक्षों में बहस हो गई और बात हाथापाई तक पहुंच गई। जिसमें गुरनाम सिंह को अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।