पंजाबः ग्रुप सी और ग्रुप डी के 35 हजार अस्थायी कर्मचारी होंगे स्थायी, भगवंत मान सरकार ने लिया बड़ा फैसला

पंजाब मंत्रिमंडल की बैठक में भगवंत मान ने प्रदेश में ग्रुप सी और ग्रुप डी के 35 हजार अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई करने का बड़ा फैसला लिया है।

पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान फुल एक्शन में नजर आ रहे हैं। आज पंजाब मंत्रिमंडल की बैठक में भगवंत मान ने प्रदेश में ग्रुप सी और ग्रुप डी के 35 हजार अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई करने का बड़ा फैसला लिया है। सीएम भगवंत मान ने कहा कि इस संदर्भ में मुख्य सचिव को निर्देशित कर दिया गया है। साथ ही  कॉन्ट्रैक्ट और आउटसोर्सिंग के तहत होने वाली भर्तियों को भी बंद करने के निर्देश दे दिए गये हैं। 
भगवंत मान ने कहा कि उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि अगले विधानसभा सत्र से पहले 35 हजार कर्मचारियों को स्थाई करने वाले इस कानून का मसौदा बनाकर तैयार किया जाए ताकि इसे विधानसभा में मंजूर करके लागू कर सकें। साथ ही भगवंत मान सरकार ने आज भ्रष्टाचार के खिलाफ भी फैसला लिया है. जिसके तहत सरकार की ओर से शहीद दिवस पर एक नंबर जारी किया जाएगा, जिसमें कोई भी व्यक्ति भ्रष्टाचार की जानकारी दे सकता है। वहीं सरकार की ओर से भगत सिंह के शहीदी दिवस पर सार्वजनिक अवकाश करवाने की घोषणा भी की गई है।

  

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले सीएम भगवंत मान में पंजाब मंत्रिमंडल की पहली कैबिनेट बैठक में प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों, बोर्डों, निगमों और पुलिस विभाग में नौजवानों को 25 हजार सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया था। जिसके संबंध में एक महीने के भीतर ऑफिशियल नोटिस भी जारी कर दिया जाएगा। इन 25 हजार में से 10 हजार पंजाब पुलिस और 15 हजार अन्य विभागों में नौकरियां निकाली जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 11 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।