सिद्धू ने किया वादा, कहा- अगर पार्टी सत्ता में बनी रही तो शहरी रोजगार गारंटी मिशन की शुरूआत की जायेगी

पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को वादा किया कि विधानसभा चुनाव के बाद अगर उनकी पार्टी सत्ता में बनी रहती है तो राज्य में शहरी श्रमिकों को रोजगार की गारंटी देने के लिये शहरी रोजगार गारंटी मिशन की शुरूआत की जायेगी।

पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को वादा किया कि विधानसभा चुनाव के बाद अगर उनकी पार्टी सत्ता में बनी रहती है तो राज्य में शहरी श्रमिकों को रोजगार की गारंटी देने के लिये शहरी रोजगार गारंटी मिशन की शुरूआत की जायेगी। सिद्धू ने रेखांकित किया कि पंजाब में ग्रामीण गरीबी की अपेक्षा शहरी गरीबी दोगुनी है। उन्होंने कहा कि रोजगार गारंटी योजना के दायरे में अकुशल श्रमिकों को भी लाया जायेगा।
यह क्रांतिकारी कदम साबित होगा
कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘शहरी श्रमिकों के रोजगार के अधिकार के लिये पंजाब मॉडल शहरी रोजगार गारंटी मिशन की शुरूआत की जायेगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह शहरी क्षेत्र में मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) की तरह होगा।’’ उन्होंने कहा कि यह एक क्रांतिकारी कदम साबित होगा। सिद्धू के अनुसार, एक प्रतिशत से भी कम दिहाड़ी मजदूरों और निर्माण श्रमिकों ने खुद को विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों के रूप में पंजीकृत किया है।
कितने लोग सरकार की योजनाओं का लाभ ले रहे हैं ? 
उन्होंने कहा कि उन्होंने आज दिन में मोहाली के मदनपुरा चौक पर कुछ श्रमिकों से मुलाकात की और उनसे पूछा कि उनमें से कितने लोग सरकार की योजनाओं का लाभ ले रहे हैं । कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘150 दिहाड़ी मजदूरों में से केवल एक ने हाथ उठाया। मैने पूछा कि उनमें से कितनों के पास श्रमिक कार्ड है, इस पर उन्होंने बताया कि इसके लिये अधिकारी उनसे पैसे मांगते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप अगर लाभार्थी को नहीं जानते हैं तो उन्हें किसी भी सरकारी योजना का लाभ नहीं दे सकते।’’
प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + eight =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।