मर्सिडीज कार लेकर पहुंचा फ्री राशन लेने युवक, सवाल किया तो मिला मजेदार जवाब

कोरोना काल में सरकार ने गरीबों की मदद के लिए मुफ्त राशन बांटा। वहीं कोई भी गरीब भूखा न सोए, इसलिए उन्हें सस्ते दाम पर राशन दिया जाता है। इसी

कोरोना काल में सरकार ने गरीबों की मदद के लिए मुफ्त राशन बांटा। वहीं कोई भी गरीब भूखा न सोए, इसलिए उन्हें सस्ते दाम पर राशन दिया जाता है। इसी बीच पंजाब के होशियारपुर का एक हैरान कर देने वाला वीडियो सामने आया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि गरीबी रेखा से नीचे का कार्ड लेकर एक शख्स मर्सिडीज से सस्ता राशन लेने पहुंचता है। वह बीपीएल कोटे में दो रुपये प्रति किलो के हिसाब से मर्सिडीज की सूंड में गेहूं की बोरी लादता है।
वीडियो देख हैरान लोग
जिसने भी ये वीडियो देखा वो हैरान रह गया। सोशल मीडिया पर लोग तरह-तरह के रिएक्शन दे रहे हैं। लोगों का कहना है कि एक तरफ लोगों को भूख मिटाने के लिए खाना नहीं मिल रहा है तो दूसरी तरफ मर्सिडीज में सस्ते राशन के बोरे लादे जा रहे हैं. बता दें कि बीपीएल परिवारों को बेहद सस्ते दर यानी 2 रुपये प्रति किलो की दर से राशन दिया जाता है। यह वीडियो आप को सोसल मीडिया पर आसानी से मिल सकता है। 
मर्सिडीज मैन ने क्या कहा
इस बारे में जब मर्सिडीज मैन से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह उनकी कार नहीं है। व्यक्ति का कहना है कि जिसके पास मर्सिडीज है वह विदेश में रहता है और कार उसकी जगह खड़ी है। उन्होंने कहा कि यह डीजल कार है इसलिए इसे कुछ दिनों में एक बार स्टार्ट करना जरूरी है। युवक की पहचान रमेश सैनी के रूप में हुई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, रमेश ने कहा कि वह गरीब है और उसके बच्चे भी सरकारी स्कूलों में पढ़ते हैं.
बता दें कि मर्सिडीज का नंबर भी वीवीआईपी था। वहीं जब राशन दुकान के मालिक से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सरकार का आदेश है कि जिसके पास बीपीएल कार्ड होगा उसे राशन देना होगा। इस मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं।
बता दें कि पंजाब सरकार ने 1 अक्टूबर से आटा और दाल की मुफ्त डिलीवरी करने का ऐलान किया है। लोगों के राशन कार्ड भी बनाए जा रहे हैं। देश में मुफ्त योजनाओं को लेकर बहस चल रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा था कि मुफ्त रेवडी देश के ईमानदार करदाताओं का पैसा बर्बाद करती है और अर्थव्यवस्था के लिए संकट भी पैदा कर सकती है। उनकी टिप्पणी सीधे आम आदमी पार्टी के लिए थी। अरविंद केजरीवाल खुलेआम मुफ्त योजनाओं का समर्थन करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 + 15 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।