Twitter पर वायरल हुआ कक्षा 5 के बच्चे का जबाव, जिसने लुटा सभी का दिल, अगर आप समाज सुधारक होते तो?

स्वतंत्रता-पूर्व युग में सामाजिक बुराइयों के बारे में एक सवाल का एक छोटे से बच्चे ने ऐसा जबाव दिया है जो आजकल सभी की दिल लूट रही है आप भी जरूर इस ट्वीट को पूरा पढ़े।

इंटरनेट के खजाने में कई ऐसे वीडियो और फोटो है जो सभी का दिल लूट लेते है। समय-समय पर इनका ट्रेंड पर आना तय रहता है हाल ही में सोशल मीडिया पर एक ऐसा ही ट्वीट वायरल हो रहा है जिसको पढ़ने के बाद आप भी सोच में पड़ सकते है कि  इतना छोटा बच्चा ऐसी बाते कैसे लिख सकता है। हाल ही में कुछ ऐसे ट्विट वायरल हुए थे जो सोसाइल मीडिया पर अभी को हंसने पर मजबूर कर रहे थे। 
स्वतंत्रता-पूर्व युग में सामाजिक बुराइयों के बारे में एक सवाल का एक छोटे से बच्चे ने ऐसा जबाव दिया है जो आजकल सभी की दिल लूट रही है आप भी जरूर इस ट्वीट को पूरा पढ़े। 
1679042407 private
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर पाथफाइंडर पब्लिशिंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक और सीईओ महेश्वर पेरी ने एक पोस्ट शेयर किया है। इस वायरल ट्वीट में उनके बेटे जो क्लास पांच में है उसका एक जबाव वायरल हुआ है। ट्विटर पोस्ट में देखा जा सकता है स्वतंत्रता-पूर्व युग में सामाजिक बुराइयों से जुड़ा एक सवाल “अगर आप स्वतंत्रता-पूर्व युग के एक समाज सुधारक होते, तो उस समय प्रचलित कौन-सी एक सामाजिक बुराई आप भारत को पिछड़े होने से रोकने के लिए मिटाना चाहेंगे? समझाइए क्यों?”

सवाल का जबाव कुछ ऐसा था “मैं विधवा पुनर्विवाह अधिनियम शुरू करना पसंद करता. अगर कोई महिला विधवा हो जाती है, तो वे या तो सती हो सकती हैं या सफेद साड़ी पहन सकती हैं, अपने बालों को बांधकर बाहर नहीं जा सकती हैं. अगर ये विधवाएँ पुनर्विवाह कर सकती हैं, तो उनका जीवन कहीं बेहतर और खुशहाल होता.” लड़के का ये जबाव उसकी टीचर को भी खूब पसंद आता है। 

1679042281 ewretgtc
ट्विटर पर पोस्ट को शेयर करते हुए कैप्शन दिया गया है “मेरा बेटा कक्षा 5 की परीक्षा के एक प्रश्न का उत्तर देता है”। सोशल मीडिया यूजर लिखते है ‘वाहवाही। राजा राम मोहन राय अत्यधिक प्रसन्न होते”। वही काफी यूजर ने वायरल ट्वीट के निचे दिल के इमोजी भी कमेंट किए। एक और यूजर लिखता है “कक्षा 5 में परिपक्वता का यह स्तर वास्तव में प्रशंसनीय है भगवान उसे आशीर्वाद दें”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 + 6 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।