महिला को आया ढाढ़ी-मूंछ, पति ने दिया तलाक, एक प्रेरणा से अब जीती है बेखौफ जिंदगी..!

पुरुषों की तो सभी बड़े गर्व से कहते है कि ये लम्बा, चौड़ा, फौलादी हमारा लड़का है लेकिन अपनी बेटी और बहु की हल्की सी भी कद-काठी छोटी हो या लम्बी हो तो घर के साथ पूरा समाज सही से उसको जीने नहीं देता है। हाल ही में एक ऐसी ही कहानी सामने आई है

समय बदला है सब कुछ लगभग बदल गया है लेकिन समाज के कुछ लोगों की सोच आज भी नहीं बदली है। हम सभी आज 21 सदी में जी रहे है तो कुछ की मानसिकता वहीं रुकी हुई है जहां लोग लड़की की कपड़े और रहन-सहन पर हमेशा गलत भावना से कमेंट करते थे। समाज हर कसौटी पर लड़की को परखता है, घर में कुछ हो तो लड़की की गलती है। घर के बाहर लड़के किसी लड़की को छेड़े तो लड़की की गलती है क्योकि लड़की ने छोटे कपडे पहन रखे थे। आज ये सवाल फिर से उठ रहा है की हर बार किसी लड़की को ही क्यों दोषी ठराहया जाता है। 
1678963854 17 21 367545751mandeep kaur
पुरुषों की तो सभी बड़े गर्व से कहते है कि ये लम्बा, चौड़ा, फौलादी हमारा लड़का है लेकिन अपनी बेटी और बहु की हल्की सी भी कद-काठी छोटी हो या लम्बी हो तो घर के साथ पूरा समाज सही से उसको जीने नहीं देता है। हाल ही में एक ऐसी ही कहानी सामने आई है देश के पंजाब राज्य से, जहर बेटी की तरह पंजाब की बेटी मनदीप की भी बड़े राजी-ख़ुशी से उसके घर वाले उसकी शादी कर देते है। लेकिंन शादी के कुछ साल के बाद मनदीप के साथ कुछ ऐसा हुआ की उसके पति ने उसको तलाक दे दिया। 
1678963869 17 20 557307363mandeep kaur 1
एक रिपोर्ट के मुताबिक मनदीप की भी शादी आम शादी की तरह साल 2012 में हुई। उसका पारिवारिक जीवन सही चल रहा था, लेकिन कुछ सालों बाद मनदीप के चेहरे पर दाढ़ी आना शुरू हो गया। इस घटना के बाद उसके पाते ने उसको तलाक दे दिया। इस घटना के बाद मनदीप काफी ही दुखी रहने लगी, जिस वजह से उसने गुरुद्वारा जाना शुरू कर दिया। अपने इस आदत के वजह से उसको अपने शरीर को जस का तस स्वीकार करने की हिम्मत मिली, जिससे उसने कभी भी अपने फेस पर से दाढ़ी-मूंछ को नहीं हटाया। आज मनदीप अपने जीवन को काफी ही आनंद रूप से जी रही है। 
1678963881 17 21 105087326mandeep kaur 3
मनदीप को जब तक कोई पहचान नहीं पाता है जब-तक वो किसी से बात नहीं कराती है उनकी आवाज से ही लोग उनको पहचान पाते है। वो अपने भाई के साथ मिल कर खेती में उनका सहयोग करती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen + twenty =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।