Search
Close this search box.

CSK vs GT: चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2023 के फाइनल में बनाई जगह , गुजरात टाइटन्स को मिली करारी हार

रुतुराज गायकवाड़ की अर्धशतकीय पारी के बाद गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल टी20 के पहले क्वालीफायर मुकाबले में मंगलवार को यहां गत चैम्पियन गुजरात टाइटंस को 15 रन से हराकर पांचवीं बार खिताब की तरफ कदम बढ़ाया।

रुतुराज गायकवाड़ की अर्धशतकीय पारी के बाद गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से चेन्नई सुपर किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टी20 के पहले क्वालीफायर मुकाबले में मंगलवार को यहां गत चैम्पियन गुजरात टाइटंस को 15 रन से हराकर पांचवीं बार खिताब की तरफ कदम बढ़ाया।
आपको बता दे कि चेन्नई ने गुजरात के सामने 173 रन का लक्ष्य रखा था जिसके जवाब में गुजरात 157 रन बनाकर पारी की आखिरी गेंद पर ऑलआउट हो गयी।
वही, चेपौक की चुनौतीपूर्ण पिच पर जहां अन्य बल्लेबाज संघर्ष करते नज़र आये, वहीं सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ ने 44 बॉल पर 7 चौकों और 1 छक्के की मदद से 60 रन की अर्द्धशतकीय पारी खेलकर चेन्नई की जीत का रास्ता आसान कर दिया। छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे जडेजा ने 16 गेंद पर 22 रन बनाकर टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया।
यह स्कोर गत चैम्पियन गुजरात टाइटंस के लिये बहुत बड़ा साबित हुआ। जडेजा ने बीच के ओवरों में गुजरात को रनों के लिए भूखा रखा और अपने चार ओवरों में सिर्फ 18 रन देकर दो विकेट लिए। महिष तीक्षणा ने उनका बखूबी साथ निभाया और चार ओवर में 28 रन देकर दो सफलता हासिल की। राशिद खान (30 रन, 16 गेंद) ने कुछ अच्छे शॉट्स के साथ संघर्ष किया, हालांकि यह गुजरात को जीत दिलाने के लिये काफी नहीं था।
बता दे कि चेन्नई सुपर किंग्स रिकॉर्ड 10वीं बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है जहां वह 28 मई को पांचवीं बार खिताब जीतने की दावेदारी पेश करेगी। गुजरात को दूसरे क्वालीफायर के रूप में फाइनल में पहुंचने का एक और मौका मिलेगा, जहां उसका सामना लखनऊ सुपरजायंट्स या मुंबई इंडियंस में से किसी एक से होगा।
गुजरात ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। मोहम्मद शमी के दम पर सधी हुई शुरुआत की। अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे दर्शन नालकंडे ने दूसरे ओवर में गायकवाड़ को कैच आउट करवा दिया, हालांकि यह गेंद नो बॉल होने के कारण चेन्नई के बल्लेबाज को जीवदान मिला।
यह जीवनदान मिलने के बाद गायकवाड़ ने इस ओवर में एक छक्का और एक चौका लगाकर लय हासिल की. दूसरे छोर पर जहां कॉन्वे ने हाथ खोलने में समय लिया, वहीं गायकवाड़ ने आक्रामक रुख अपनाते हुए चेन्नई को पावरप्ले में 49 रन तक पहुंचाया।
गायकवाड़ और कॉनवे के बीच पहले विकेट के लिये 87 रन की मजबूत साझेदारी हुई, जिसे मोहित शर्मा ने गायकवाड़ का विकेट लेकर तोड़। गायकवाड़ का विकेट गिरते ही चेन्नई की पारी धीमी पड़ गयी।
नूर अहमद ने शिवम दूबे को एक रन के स्कोर पर आउट कर दिया। अंतिम ओवरों की ओर बढ़ते हुए अजिंक्य रहाणे (10 गेंद, 17 रन) ने रनगति बढ़ना चाही लेकिन दर्शन को छक्का जड़ते ही अगली गेंद पर वह कैच आउट हो गये। कॉनवे ने 34 गेंद पर 40 रन की पारी खेली और उनका संघर्ष राशिद खान ने समाप्त किया।
चेन्नई ने 10 ओवर में 85 रन बना लिये थे, लेकिन विकेटों के लगातार पतन के कारण वह 17 ओवर में 137/4 तक ही पहुंच सकी। चेन्नई ने अगले तीन ओवरों में तीन विकेट गंवाये, हालांकि बल्लेबाजों के संघर्ष के कारण वह 35 रन भी जोड़ सकी।
रायडू ने नौ गेंद पर 17 रन बनाये, जबकि रवींद जडेजा ने 16 गेंद पर 22 रन का योगदान दिया। मोईन अली चार गेंदों पर नौ महत्वपूर्ण रन बनाकर नाबाद रहे जबकि चेन्नई ने 20 ओवर में 172/7 का स्कोर खड़ा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 + 9 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।