‘प्लेयर ऑफ़ द मैच’ बनने के बाद भी दूसरे टेस्ट में kuldeep yadav को नहीं मिली प्लेइंग में जगह

आज टॉस के वक्त केएल राहुल ने जब प्लेइंग बताई तो उसमे कलदीप यादव की जगह 12 साल बाद टीम में वापसी कर रहे है जयदेव उनादकट का था। वहीँ कुलदीप यादव जो पिछले मैच में 8 विकेट और बल्ले के साथ 40 रन बनाए थे उन्हें बाहर बैठना पड़ रहा है।

आज भारत और बांग्लादेश के बीच दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में टीम की कप्तानी केएल राहुल कर रहे। आज भारतीय कप्तान और टीम मैनेजमेंट ने एक चौकना वाला फैसला लिया। राहुल ने जब प्लेइंग बताई तो उसमें पिछले मैच के हीरो रहे कुलदीप यादव का नाम ही नहीं था। जिस खिलाड़ी को पिछले ही मैच में प्लेयर ऑफ़ द मैच मिला हो और फिर अगले ही मैच में उसे टीम से ड्राप कर दिया जाए ये थोड़ा समझ से बाहर है। टीम के इस फैसले से पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर भी ना खुश दिखे और भारतीय फैंस भी 
1671701380 screenshot 15
आज टॉस के वक्त केएल राहुल ने जब प्लेइंग बताई तो उसमे कलदीप यादव की जगह 12 साल बाद टीम में वापसी कर रहे है जयदेव उनादकट का था। वहीँ कुलदीप यादव जो पिछले मैच में 8 विकेट और बल्ले के साथ 40 रन बनाए थे उन्हें बाहर बैठना पड़ रहा है। कुलदीप को बाहर करने पर राहुल ने कहा ‘हमने एक बदलाव किया – कुलदीप नहीं खेल रहे है और उनकी जगह उनादकट को टीम में शामिल किये गए है। हमारे लिए उन्हें बाहर छोड़ने बहुत मुश्किल फैसला था। लेकिन साथ ही यह उनादकट के लिए एक अवसर भी है।’
1671701446 screenshot 16
वहीँ इस फैसले से नाराज़ सुनील गावस्कर ने कहा ‘यह बहुत गलत फैसला है. अगर आपको जयदेव उनादकट को मौका देना ही था तो किसी दूसरे स्पिनर को बाहर किया जा सकता था. लेकिन जिस खिलाड़ी ने पिछले मैच में इतना बेहतरीन प्रदर्शन किया हो उसे कैसे बाहर कर सकते हैं। 
वहीँ फैंस ने भी अपनी नाराजगी दिखाई और ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा ‘कुलदीप यादव ने मैन ऑफ द मैच पुरस्कार के साथ 8 विकेट लिए और 40 रन बनाए, लेकिन अगले ही मैच में बाहर हो गए। भारत का चयन बुद्धिहीन रहा है।’
‘कुलदीप यादव के लिए बुरा लग रहा है। 8 विकेट लिए और महत्वपूर्ण 40 रन बनाए उसके बाद मैन ऑफ द मैच अवार्ड बी मिला, लेकिन अगले ही मैच में बाहर हो गए।’
‘ऐसा सिर्फ कुलदीप यादव के साथ ही क्यों होता है। आप उनके साथ ऐसा बार-बार नहीं कर सकते हैं।’ आपको बता दें की इसे पहले ऑस्ट्रेलिया टूर पर भी कुलदीप के साथ ऐसा ही कुछ हुआ था। कुलदीप ने मैच में 5 विकेट लिए थे उसके बाद भी उन्हें अगले मैच से ड्राप कर दिया गया था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − eight =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।