पैरा ओलंपिक में 50 KG पावरलिफ्टिंग में पांचवे स्थान पर भारत की सकीना खातून

भारतीय पावरलिफ्टर सकीना खातून तोक्यो पैरालम्पिक में महिलाओं के 50 किलोवर्ग में पांचवें स्थान पर रही । राष्ट्रमंडल खेल 2014 की कांस्य पदक विजेता सकीना का सर्वश्रेष्ठ प्रयास 93 किलो रहा ।

भारतीय पावरलिफ्टर सकीना खातून तोक्यो पैरालम्पिक में महिलाओं के 50 किलोवर्ग में पांचवें स्थान पर रही । राष्ट्रमंडल खेल 2014 की कांस्य पदक विजेता सकीना का सर्वश्रेष्ठ प्रयास 93 किलो रहा । चीन की डेंडान हू ने 120 किलो उठाकर स्वर्ण पदक जीता जबकि मिस्र की रेहाब अहमद ने रजत और ब्रिटेन की ओलिविया ब्रूम ने कांस्य पदक जीता ।
32 वर्ष की खातून ने पहले प्रयास में 90 किलो वजन उठाया । दूसरे प्रयास में उन्होंने 93 किलो की कोशिश की लेकिन नाकाम रही । तीसरे प्रयास में उन्होंने 93 किलो वजन उठाया ।
खातून राष्ट्रमंडल खेल में पदक जीतने वाली भारत की अकेली पैरालम्पियन हैं जिन्होंने ग्लास्गो में 2014 में यह कारनामा किया था । उन्होंने 2018 पैरा एशियाई खेलों में भी रजत पदक जीता था । पावरलिफ्टिंग में वे खिलाड़ी भाग लेते हैं जो पैरों या कूल्हे में विकार के साथ सामान्य (स्टैंडिंग) भारोत्तोलन में भाग नहीं ले सकते ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − twelve =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।