कोरोना वायरस के चलते महाराष्ट्र सरकार का बड़ा फैसला, बिना दर्शक के होंगे IPL के मैच, नहीं होगी टिकटों की बिक्री

महाराष्ट्र सरकार ने देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के चलते राज्य में आईपीएल मैचों की टिकटों की बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगा दी है

महाराष्ट्र सरकार ने आगामी IPL-2020 के लिए बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के चलते राज्य में आईपीएल मैचों की टिकटों की बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। बुधरवार से ही हलचल थी कि राज्य में आईपीएल के मैच बिना दर्शकों के होंगे, लेकिन आज गुरुवार को महाराष्ट्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि मैच मैदान पर बिना दर्शकों की मौजूदगी में ही होंगे। दरअसल यह फैसला सरकार ने बढ़ते हुए कोरोना वायरस के चलते लिया है।
राज्य में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कैबिनेट ने यह फैसला लिया है। बता दें, IPL का 13वां सीजन 29 मार्च से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शुरू होगा। पहला मैच मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाना है। बता दें, बीते दिन यानी बुधवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में यह सबसे पहले प्रस्ताव लाया गया था। ज्ञात हो महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस के पांच पॉजिटिव मामलों की पुष्टि हुई थी। 
बता दें, इस खतरनाक वायरस से दुनियाभर में 3000 से भी ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है, वहीं, इस वायरस की चपेट में अब तक कुल 124 देश आ चुके हैं। भारत में अब तक कुल 74 मामलों की पुष्टि हो चुकी हैं, वहीं, केरल के एक व्यक्ति की कोरोना वायरस के चलते मौत भी हो गई है।
महाराष्ट्र के मुंबई में आईपीएल के फाइनल मैच को मिलाकर कुल आठ मैच खेले जाने हैं, प्रमुख फ्रैंचाइजी मुंबई इंडियंस को यहां सात मैचों की मेजबानी मुंबई शहर में ही करनी है। साथ ही यह मांग भी उठ रही है कि सीजन के सभी मैच स्टेडियम में बिना दर्शकों के हो। 
वहीं, खेल मंत्रालय ने बीसीसीआई को कोरोना वायरस को देखते हुए इस मामले में जरूरी कदम उठाने को कहा है। हालांकि, 16 मार्च को आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग होनी है, जिसमें बड़ा फैसला आने की उम्मीद जताई जा रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।