Search
Close this search box.

यूपी में अगले वर्ष होने वाले हैं 31आईएएस अधिकारी सेवानिवृत्त, विभाग ने शुरु की तैयारी

उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष 31 आईएएस अधिकारी सेवानिवृत्त हो जाएंगे। जिसके लिए नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार इन अधिकारियों के सेवा अभिलेख एवं पेंशन संबंधी प्रक्रिया के साथ उनकी जन्म तिथि एवं सेवानिवृत्ति तिथि का मिलान करने की तैयारी शुरू कर दी गई है

उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष 31 आईएएस अधिकारी सेवानिवृत्त हो जाएंगे। जिसके लिए नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार इन अधिकारियों के सेवा अभिलेख एवं पेंशन संबंधी प्रक्रिया के साथ उनकी जन्म तिथि एवं सेवानिवृत्ति तिथि का मिलान करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। इन अधिकारियों   में देवाशीष पांडा, टी वेंकटेश और राजेंद्र प्रताप पांडे जैसे होनहार अधिकारी भी शामिल हैं जो 31 जनवरी को अपना पद छोड़ देंगे।
यह अधिकारी होंगे सेवानिवृत्त
अगले वर्ष सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारियों में देवाशीष पांडा, टी वेंकटेश और राजेंद्र प्रताप पांडे के सेवानिवृत्त होने के बाद अब्दुल शमद, मोहम्मद इफ्तेखारुद्दीन और अवनीश कुमार शर्मा 28 फरवरी को सेवानिवृत्त होंगे जबकि संजय अग्रवाल 31 मार्च को अपना कार्यकाल पूरा करेंगे। शमीम अहमद खान, एम.वी.एस. रामिरेड्डी, प्रभात कुमार सारंगी, आलोक सिन्हा, मुकुल सिंघल 30 अप्रैल को सेवानिवृत्त होंगे और रमाशंकर मौर्य और वीरेंद्र कुमार सिंह 31 मई को सेवानिवृत्त होंगे। भावना श्रीवास्तव, राजेंद्र प्रसाद, रविशंकर गुप्ता और फैसल आफताब 30 जून को सेवानिवृत्त होंगे। नरेंद्र सिंह पटेल, डॉ अजय शंकर पांडे, डॉ अशोक चंद्रा और दिनेश कुमार सिंह 31 जुलाई को सेवानिवृत्त होंगे। अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी 31 अगस्त को सेवानिवृत्त होंगे, जबकि आलोक टंडन और डिंपल वर्मा 30 सितंबर को कार्यालय से सेवानिवृत्त होंगे। प्रदीप कुमार 31 अक्टूबर को सेवानिवृत्त होंगे और राधेश्याम मिश्रा, दीप चंद्र, राजन शुक्ला और शालिनी प्रसाद 30 नवंबर को सेवानिवृत्त होंगे। श्रीकांत मिश्रा 31 दिसंबर 2022 को पद छोड़ देंगे।
राज्य की नौकरशाही में होगा बदलाव
इतने  अधिकारियों के एक साथ सेवानिवृत्त होने की खबर के बाद एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि, इन वरिष्ठ अधिकारियों की सेवानिवृत्ति के साथ, राज्य की नौकरशाही में एक निश्चित पीढ़ीगत बदलाव होगा जो काम करने में एक स्पष्ट बदलाव लाने के लिए बाध्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।