शराबियों को लगा बड़ा झटका, बढ़ने वाले हैं प्रदेश में शराब के दाम

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने नई आबकारी नीति को मंजूरी दे दी है। जिसके बाद 1 अप्रैल से प्रदेश में देशी, अंग्रेजी और बियर की कीमतों में इजाफा होगा

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने नई आबकारी नीति को मंजूरी दे दी है। जिसके बाद 1 अप्रैल से प्रदेश में देशी, अंग्रेजी और बियर की कीमतों में इजाफा होगा। शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में नई शराब नीति को मंजूरी दी गई। नई शराब नीति से शौकीनों को तो झटका लगा ही है, शराब बेचने वालों को भी जेब ढीली करनी होगी।
5 व 10 रुपये की बढ़ोत्तरी 
नई आबकारी नीति के बाद यूपी में देसी और अंग्रेजी शराब की कीमतों में क्रमशः 5 व 10 रुपये की बढ़ोत्तरी होगी। बियर की कीमतों में भी पांच से सात रुपये की वृद्धि होगी। बढ़ी हुयी दरें 1 अप्रैल से लागू होंगी। इसके अलावा लाइसेंस फीस में 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी होगी। साथ ही  मॉडल शॉप पर शराब पिलाने पर अब दो लाख की बजाय 3 लाख रुपये शुल्क देना होगा।
1674976644 dfdfd
45 हजार करोड़ राजस्व का लक्ष्य
कैबिनेट बैठक में नई आबकारी नीति को मंजूरी मिलने के बाद सरकार ने वित्तीय वर्ष 2023 में 45 हजार करोड़ के राजस्व का लक्ष्य रखा है। पिछले साल यह लक्ष्य 40 हजार करोड़ था। बता दें कि शराब की कीमतों में वृद्धि के अलावा और कोई बदलाव नहीं किया गया है। शराब की दुकानें पहले की तरह ही खुलेंगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − seven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।