लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

मायावती का भाजपा पर हमला, कहा- रोजगार के लिए पलायन न करना पड़े, इसलिए रोजी-रोटी के साधन दिए जायेंगे

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने शनिवार को कहा कि सरकार बनने के बाद रोजगार के लिए प्रदेशवासियों को पलायन न करना पड़े इसके लिए रोजी-रोटी के साधन प्राथमिकता के आधार पर दिए जायेंगे।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने शनिवार को कहा कि सरकार बनने के बाद रोजगार के लिए प्रदेशवासियों को पलायन न करना पड़े इसके लिए रोजी-रोटी के साधन प्राथमिकता के आधार पर दिए जायेंगे। 
मायावती ने अंबेडकर नगर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ”बहुजन समाज पार्टी की पहले की सरकारों में गरीबों, बेरोजगारों को पलायन नहीं करना पड़ा, बल्कि जो पलायन करके चले गये थे वे भी बड़े पैमाने पर उप्र वापस आ गये थे। इसलिए मैं आपलोगों को यह विश्वास दिलाना चाहती हूं कि जब इस बार पांचवीं बार बसपा की सरकार बनेगी, आप लोगों को रोजी-रोटी के साधन प्राथमिकता के आधार पर दिए जायेंगे। आप लोगों को पलायन न करना पड़े, इसके लिए प्रयास किए जायेंगे।” 
अंबेडकर नगर का विशेष ध्यान दिया जाएगा 
उन्होंने भरोसा दिया कि इस बार उनकी सरकार में किसानों को किसी भी मामले में निराश नही होने दिया जाएगा। मायावती ने शहर से अपने रिश्तों की याद दिलाते हुए कहा, ‘‘अंबेडकर नगर का विशेष ध्यान दिया जाएगा, क्योंकि आपने हमें सांसद बनाकर यहां से भेजा है, इसलिए आप लोगों का विशेष अधिकार मेरे ऊपर बनता है।’’ 
मायावती ने कहा, ‘‘आप लोगों को मालूम है कि आजादी के बाद से काफी लंबे समय तक देश और अधिकांश राज्यों में कांग्रेस पार्टी की सरकारें रही हैं, किंतु इनकी गलत नीतियों एवं गलत कार्यप्रणाली के कारण कांग्रेस केंद्र और अन्या राज्यों के अलावा उप्र से भी सत्ता से बाहर हो चुकी है।’’ 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी घोर जातिवादी होने के कारण शुरू से ही हर मामले में, खासकर यहां, दलित, आदिवासी व अन्य पिछड़ा वर्ग की विरोधी रही है एवं कांग्रेस वोट के लिए नाटकबाजी करती है। मायावती ने कहा, ”शिक्षा के क्षेत्र में व अन्य विभागों के कर्मचारी जो आए दिन अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन व हड़ताल आदि करते हैं, वैसे सभी मामलों को निपटाने लिए एक आयोग का गठन किया जाएगा और उनकी सही मांगों को मान लिया जाएगा। इसमें कर्मचारियों की पुरानी पेंशन का मामला भी शामिल है, क्योंकि बसपा नयी पेंशन व्यवस्था से कतई सहमत नहीं है। इसलिए बसपा की सरकार बनने पर पुरानी पेंशन व्यवस्था को लागू किया जाएगा।’’ 
मुस्लिम समाज में खौफ का माहौल रहा है 
उन्होंने भाजपा सरकार में अल्पसंख्यकों के साथ पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि मुस्लिम समाज में खौफ का माहौल रहा है। उन्होंने कहा कि इस सरकार में मुस्लिम समाज और सवर्ण समाज के लोग काफी दुखी रहे हैं और इनकी गलत आर्थिक नीतियों के कारण गरीबी, महंगाई काफी ज्यादा बढ़ी है। उन्होंने कहा कि किसान भी केंद्र सरकार की गलत नीतियों से सबसे ज्यादा दुखी हैं।  
आरक्षण का कोटा भाजपा सरकार में पूरा नही किया गया 
भाजपा पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में दलितों व पिछड़ों को आरक्षण का लाभ पूरा नही मिल सका हैं, क्योंकि इन्होंने ज्यादातर सरकारी कार्य निजी क्षेत्र के जरिये ही कराये हैं जिसमें इनके लिए आरक्षण की कोई भी व्यवस्था नही हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरियों में भी आरक्षण का कोटा भाजपा सरकार में पूरा नही किया गया हैं। अल्पसंख्यक समाज के लोगों से भाजपा ने अधिकतर पक्षपात का रवैया ही अपनाया है। मुस्लिम समाज इस सरकार से बहुत पीड़ित रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव के दिन महिलायें सबसे आगे रहें और सबसे पहले मतदान करें और अपनी बहन जी को पांचवीं बार उप्र की मुख्यमंत्री बनवायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 10 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।