Search
Close this search box.

पिता ने अपने ही सात वर्षीय बेटे को किया किडनैप ,’पान सिंह तोमर ‘मूवी देखकर वारदात को दिया अंजाम

पान सिंह तोमर ‘मूवी देखकर पिता ने नक़ली पुलिस की मदद से ख़ुद के 7 वर्षीय बेटे को किडनैप कर लिया।बेटे के अपहरण के लिए दोस्त को ही पिता ने नक़ली पुलिस कर्मी बना दिया।

पिता ने नक़ली पुलिस की मदद से ख़ुद के 7 वर्षीय बेटे को किडनैप कर लिया। बेटे के अपहरण के लिए दोस्त को ही पिता ने नक़ली पुलिस कर्मी बना दिया आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पहले पिता ने पान सिंह तोमर मूवी देखी और फिर नक़ली पुलिस की मदद से 7 वर्षीय बेटे को किडनैप कर लिया।  

पान सिंह तोमर मूवी देखकर पिता बना अपराधी
आगरा में 7 वर्षीय बेटे को अपने साथ ले जाने की चाहत में एक पिता अपराधी बन गया। मामला पिढोरा थाना क्षेत्र का है. यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर पिता गौरव ने अपनी मां वन्दना और दोस्त विवेक त्रिपाठी के साथ मिलकर ऐसी साजिश रची कि जिले में हड़कम्प मच गया।जहाँ अपने ही बेटे को पिता ने किडनैप कर लिया लेकिन इस मामले का ख़ुलासा होने में ज़्यादा देर नहीं लगी और आरोपियों को पकड़ लिया।
 

कोर्ट में चल रही पति पत्नी की तलाक़ की अर्ज़ी
हीं, रिदान की मां विनीता ने बताया कि उसकी शादी गौरव से साल 2017 में हुई थी. दोनों का बेटा भी हुआ जिसका नाम रिदान रखा गया. लेकिन पति-पत्नी में आपस में बिल्कुल भी नहीं बनती थी। जिसके चलते विनीता बेटे रिदान को लेकर मायके आ गई और वहीं रह रही है। उसने कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी भी डाली हुई है।
 

ग्रामीणों ने नक़ली पुलिस कर्मी को पकड़ा
गौरव ने स्कूल जा रहे बेटे को फर्जी पुलिस की मदद से अगवा कर लिया
लेकिन मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई और उन्होंने फर्जी पुलिस वाले को पकड़ लियाजैसे ही लोगों ने यह सब होता देखा तो उन्हें शक हुआ और उन्होंने नकली पुलिस की वर्दी पहने विवेक से पूछताछ शुरू कीऔर फिर क्या था उन्होंने नक़ली पुलिसकर्मी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।  

पिता ने ख़ुद बताया कि क्यूँ किया बेटे का किडनैप
पुलिसने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में बताया है कि किडनैपिंग से पहले उन्होंने कई फिल्में देखीं. फिर ‘पान सिंह तोमर’ फिल्म देखने के बाद उन्होंने पूरी वारदात को अंजाम दिया. सुबह 7 से 8 बजे के बीच बच्चों को लेकर बस स्कूल के लिए निकली
तब रास्ते में उसने चेकिंग के नाम पर बस को रुकवाया फिर इसी बात का फायदा उठाकर गौरव र उसकी मां वंदना रिदान को वहां से लेकर दूसरी कार में चले गए।  
अपने ही दोस्त और अपनी माँ के साथ मिलकर पिता ने किया बेटे को किडनैप
पिता ने अपने एक दोस्त को नक़ली पुलिसकर्मी बनाया और माँ के साथ मिलकर पूरी प्लानिंग की बेटी को किस तरह से किडनैप किया जाएगाअच्छी बात ये रही कि ग्रामीणों ने नक़ली पुलिसकर्मी को मौक़े पर पकड़ लिया नहीं तो मूवी देखकर किडनैपिंग की प्लानिंग करने वाले तथा का पूर्ण तरीक़े से प्लान सफल हो जाता। 
आगे की कार्यवाही में जुटी पुलिस

फ़िलहाल प्लानिंग में शामिल लोगों के ख़िलाफ़ कार्यवाही में पुलिस टीम जुटी हुई है वहीं बेटे को माँ के पास भेज दिया गया अब देखने वाली बात होगी यह मामला आगे क्या मोड़ लेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 12 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।