लखनऊ : शाम को आनी थी बेटी की बारात, पिता ने दोपहर में लगा ली फांसी

लखनऊ के बाहरी इलाके मोहनलालगंज के टिकरासनी गांव की है। मृतक की पहचान 58 वर्षीय सुनील द्विवेदी क़े तोर पर हुई, जो आटा चक्की संचालक और किसान था। परिवार में उनकी 5 बेटियां और इकलौता बेटा है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक पिता ने बेटी की शादी वाले दिन फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, बेटी की शादी से कुछ घंटो पहले ही पिता शराब पीकर आया था, जिसको लेकर परिवारवालों जमकर फटकार लगाई, जिससे आहत होकर उसने फांसी लगा ली। हालांकि परिजनों का कहना है कि वह शादी के लिए हुए कर्ज से परेशान था।
मामला, लखनऊ के बाहरी इलाके मोहनलालगंज के टिकरासनी गांव की है। मृतक की पहचान 58 वर्षीय सुनील द्विवेदी क़े तोर पर हुई, जो आटा चक्की संचालक और किसान था। परिवार में उनकी 5 बेटियां और इकलौता बेटा है। मृतक की चौथे नंबर की बेटी नव्या की बारात कानपुर से रविवार को आनी थी।

UP News: गाजीपुर में बड़ी सड़क दुर्घटना, अज्ञात वाहन ने कार को बुरी तरह कुचला, मौके पर 3 की मौत

सुनील क़े बेटे अंकुर ने बताया कि पापा शनिवार को नशे की हालत में घर लौटे और शादी में शामिल होने के लिए घर पहुंचे अपने रिश्तेदारों को गाली देने लगे। इस पर लोगों ने उन्हें फटकार लगाई। घटना का पता तब चला जब उसके कुछ रिश्तेदार कमरे में पहुंचे और उसे फंदे पर लटका पाया। 
मृतक के बेटे अंकुर ने बताया कि उसके पिता सुनील शराबी थे और उसके रिश्तेदार इसका विरोध करते थे। दुल्हन क़े पिता की मौत की खबर से शादी वाले घर में मातम का माहौल बन गया। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आगे की जांच शुरू कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 + one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।