मेरठ : मंदिर के अंदर फांसी पर झूलती मिली गर्दन कटी लाश, इलाके में मचा हड़कंप

मेरठ जनपद के खरखौदा थाना क्षेत्र के एक गांव में एक मंदिर के अंदर एमए की छात्रा की गर्दन कटी लाश फंदे से लटकी मिलने पर इलाके में सनसनी फैल गई।

उतर प्रदेश के मेरठ में एक मंदिर के अंदर छात्रा की गर्दन कटी लाश फंदे पर लटकी मिली। पुलिस को आशंका है कि अंधविश्वास के चलते छात्रा ने यह कदम उठाया है। फिलहाल फॉरेंसिक टीम घटनास्थल की जांच कर रही है। घटना की खबर सामने आते ही इलाके में सनसनी फैल गई।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) प्रभाकर चौधरी ने घटना के बारे में गुरुवार को बताया कि पुलिस को स्थानीय लोगों से एक युवती के मंदिर में आत्महत्या करने की सूचना मिली थी। उसके बाद पुलिस को मौके पर भेजा गया लेकिन तब तक परिवार के लोग शव का अंतिम संस्कार कर चुके थे।
उन्होंने बताया कि फॉरेंसिक टीम को भेजकर तथ्य जुटाए जा रहे हैं। एसएसपी के अनुसार मृतका के परिवार का कहना है कि छात्रा पूजा-पाठ बहुत करती थी और पहली नजर में यह अंधविश्वास का मामला लग रहा है। जानकारी के अनुसार थाना खरखौदा क्षेत्र के एक गांव की निवासी 22 वर्षीय छात्रा हापुड़ के एक कॉलेज से एमए कर रही थी। 

शर्मनाक! बेटा न होने पर पति ने पत्नी पर डाला खौलता हुआ गर्म पानी

सोमवार दोपहर को वह बिना किसी को बताए घर से निकल गई। पुलिस ने बताया कि देर तक छात्रा के घर नहीं लौटने पर परिजन ने तलाश शुरु की। इस बीच, कुछ ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने एक लड़की को गांव के देवी के मंदिर की तरफ जाते देखा है। 
उन्होंने बताया कि परिजन वहां पहुंचे तो दरवाजा अंदर से बंद था। खटखटाने पर जब दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने अनहोनी की आंशका में ग्रामीणों के साथ मिलकर दरवाजा तोड़ दिया। अंदर का दृश्य दखकर परिवार के लोगों और ग्रामीणों के होश उड़ गए। अंदर छात्रा की लाश फांसी के फंदे से झूल रही थी। 

सुप्रीम कोर्ट के सामने आत्मदाह मामले में दो पुलिसकर्मी निलंबित, जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठित

पुलिस ने बताया कि गर्दन कटी हुई थी जिसपर गहरा घाव था और काफी खून बह चुका था। इसके बाद परिजन ने पुलिस को बिना सूचना दिए ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया। उन्होंने बताया कि बुधवार शाम तक खरखौदा के आस-पास के गांवों में युवती के बलि देने की सूचना फैलने लगी जिसके बाद निरीक्षक संजय शर्मा ने मौके पर पहुंचकर मौका-ए-वारदात का मुआयना कर परिवार से पूछताछ की। 
मंदिर परिसर का निरीक्षण करने के बाद कुछ साक्ष्य कब्जे में लिए गए। पुलिस का कहना है कि संभवत: युवती ने अंधविश्‍वास में यह कदम उठाया है लेकिन मौत का कारण जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।