यूपी के बलरामपुर जिले की गैंगरेप पीड़िता के घर पहुंचे अधिकारी, सौंपी मुआवजा राशि

उत्तर प्रदेश में बलरामपुर जिले के गैसडी क्षेत्र में सामूहिक बलात्कार के बाद युवती की मृत्यु के बाद गुरूवार को जिला अधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक ने पीड़िता के घर जाकर परिजनों को 6 लाख 18 हजार 750 रूपए की मुआवजा राशि का अनुबंध पत्र सौंपा।

उत्तर प्रदेश में बलरामपुर जिले के गैसडी क्षेत्र में सामूहिक बलात्कार के बाद युवती की मृत्यु के बाद गुरूवार को जिला अधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक ने पीड़िता के घर जाकर परिजनों को 6 लाख 18 हजार 750 रूपए  की मुआवजा राशि का अनुबंध पत्र सौंपा। 
आधिकारिक सूत्रों ने यहां यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को गैसडी क्षेत्र की रहने वाली 22 वर्षीय युवती के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया। हालत गंभीर होने पर अस्पताल लाते समय रास्ते में ही उसकी मृत्यु हो गई थी। परिजनों की शिकायत के आधार पर दो नामजद आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया गया है। 
 सूत्रों ने बताया कि जिला अधिकारी करूणा करूणेश और पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने देवीपाटन मंदिर के महंत मिथलेश कुमार योगी के साथ आज पीड़ित परिवार से मिले। डीएम ने पीड़िता की मां को अहेतुक सहायता के रूप में चेक दिया। लेखपाल से कहा कि जमीन ढूंढकर मां के नाम पट्टा बनवाएं।
इस दौरान अधिकारियो ने पीड़ित परिवार को अवगत कराया कि मामले में नामजद आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया गया है और जेल भेजने की तैयारी की जा रही है। पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने बुधवार रात यहां यह जानकारी दी। 
देवरंजन वर्मा ने बताया कि गैसडी क्षेत्र में की रहने वाली एक 22 वर्षीय युवती मंगलवार देर शाम तक घर वापस घर नहीं लौटी। परिजनों ने उसके मोबाइल पर कॉल किया लेकिन उसका फोन रिसीव नहीं हुआ। थोडी देर बाद युवती एक रिक्शे पर बैठकर घर आई। उसके हाथ में ग्लूकोज चढ़ने वाला वीगो लगा हुआ था। उस समय युवती की तबियत काफी खराब थी। उन्होंने बताया कि युवती को परिजन उसे अस्पताल ले जा रहे थे तभी रास्ते मे उसकी मृत्यु हो गई। 
उन्होंने बताया कि परिजनो का आरोप है कि दो युवकों ने उनकी लड़की को इलाज के बहाने ले जाकर बलात्कार किया। हालत खराब होने पर उसे रिक्शे पर बैठाकर कर घर भेज दिया। उन्होंने बताया कि परिजनो की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर दो आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक अरविंद कुमार मिश्र के नेतृत्व में जाँच कराई जा रही है। दोषियो के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − six =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।