राम मंदिर न्यास ने अयोध्या में श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए 1.15 लाख वर्ग फुट जमीन खरीदी

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने ट्रस्ट की गतिविधियों, सुरक्षाकर्मियों और श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए राम जन्मभूमि परिसर से करीब दो-तीन किलोमीटर दूर तकरीबन 1.15 लाख वर्ग फुट जमीन खरीदी है।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने ट्रस्ट की गतिविधियों, सुरक्षाकर्मियों और श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए राम जन्मभूमि परिसर से करीब दो-तीन किलोमीटर दूर तकरीबन 1.15 लाख वर्ग फुट जमीन खरीदी है। न्यासी अनिल मिश्रा ने बताया कि बस्ती जिले के निवासी हरीश कुमार पाठक से पिछले हफ्ते राम कोट और थेरी बाजार इलाकों में स्थित दो प्लॉट खरीदे गए। 
उन्होंने बताया कि 690 रूपए प्रति वर्ग फुट के दाम से जमीन खरीदी गई। मिश्रा ने कहा कि हमने दोनों प्लॉट के मालिक को आठ करोड़ रूपए दे दिए हैं। मंदिर भूमि के विस्तार के लिए राम जन्मभूमि परिसरों से जुड़ी संपत्तियों का सर्वेक्षण कराया जा रहा है और उनके मालिकों का पता लगाने के लिए एक सूची बनाई जा रही है। इन संपत्तियों में कुछ मुसलमानों के घर और मस्जिद भी हैं। 
अयोध्या के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने बताया कि इन संपत्तियों के मालिकों का पता लगाने के लिए सर्वेक्षण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि जो लोग यहां रह रहे हैं वे किरायेदार हैं या मकान के मालिक हैं। न्यास के सचिव चंपत राय ने बताया कि राम जन्मभूमि परिसर का विस्तार आपसी सहमति और बातचीत से किया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि हम उसी कीमत पर जमीन खरीदेंगे जो उसके मालिक मांगेंगे या हम उन्हें उसकी जगह कोई वैकल्पिक जमीन दे सकते हैं। श्रद्धालुओं को मौलिक सुविधाएं मुहैया कराने के लिए विस्तार किया जा रहा है। मार्च के पहले सप्ताह में न्यास ने यहां राम जन्मभूमि परिसरों से जुड़ी 7,285 वर्ग फुट जमीन खरीदी। उसकी योजना मंदिर परिसर क्षेत्र का विस्तार 107 एकड़ तक करने का है। अभी उसके पास 70 एकड़ जमीन है। न्यास ने एक करोड़ रूपए में जमीन खरीदी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।