UP में बिजली फाल्टों का होगा तत्वारित समाधान, इंजीनियर को रात में पेट्रोलिंग करने के निर्देश

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए बिजली अधिकारियों को रात में पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए है।

उत्तर प्रदेश में अब बिजली फाल्टों का तत्वरित समाधान हो सकेगा। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए बिजली अधिकारियों को रात में पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए है। कृष्णा नगर विद्युत उपकेंद्र पर शुक्रवार देर रात वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये सभी डिस्काम्स की समीक्षा करते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरप्लस पावर स्टेट है। 
बैठक में चेयरमैन, एमडी यूपीपीसीएल, सभी डिस्कॉम्स के एमडी, चीफ इंजीनियर और एसई स्तर के सभी अधिकारी विद्युत उपकेंद्रों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जुड़े। बैठक में श्रीकांत शर्मा ने कहा, फीडर तक पर्याप्त बिजली जा रही है। मांग के अनुसार ट्रांसफार्मर व केबल का प्रयोग कर निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि लगातार 24,000 मेगावाट से अधिक की रिकॉर्ड मांग के बीच निर्बाध आपूर्ति के लिए लोड असेसमेंट व लोड बैलेंसिंग के कार्य लगातार हों और निर्बाध आपूर्ति में आने वाले फॉल्ट तत्काल दूर हों यह डिस्कॉम्स के प्रबंध निदेशक सुनिश्चित करें। यूपीपीसीएल अध्यक्ष इसकी लगातार निगरानी करें।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि उपभोक्ता रात को चैन से सोये, इसकी पूरी तैयारियां दिन में करें। गांव में एक जगह फॉल्ट हो तो पूरे फीडर को बंद न करें। शहरों में अंडरग्राउंड केबलिंग वाले क्षेत्रों में पर्याप्त फॉल्ट लोकेटर हों। ओवरलोडेड सब स्टेशनों को जोड़कर लोड बांटे। गांव व शहर में फॉल्ट तत्काल दूर हों।
उन्होंने कहा कि कोविड 19 के कारण अपग्रेडेशन कार्य प्रभावित हुए हैं लेकिन उनमें तेजी लाकर उपभोक्ताओं को राहत दें। यह भी निर्देश दिए कि तीन माह तक के बकायेदारों का डोर नॉक करें। उन्हें बकाया जमा करने के लिए प्रेरित करें। डिस्कनेक्शन कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने उपभोक्ताओं से नियमित बिल भुगतान की अपील भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + 17 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।