लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

बेटे के साथ मिलकर की प्रेमिका की हत्या, लाश को दिया एक्सीडेंट का रूप

गाज़ियाबाद से एक चौकाने वाली घटना सामने आई है। जहां प्रेम ने हैवानियत की हदें पर कर दी। दरअसल, एक प्रेमी ने अपने बेटे के साथ मिलकर कार में अपनी माशूक़ा की गाला दबा कर हत्या कर दी और लाश को एक्सीडेंट का रूप दे दिया।

गाज़ियाबाद से एक चौकाने वाली घटना सामने आई है। जहां प्रेम ने हैवानियत की हदें पर कर दी। दरअसल, एक प्रेमी ने अपने बेटे के साथ मिलकर कार में अपनी माशूक़ा की गाला दबा कर हत्या कर दी और लाश को एक्सीडेंट का रूप दे दिया। हालांकि पुलिस ने प्रेमी बाप तथा बेटे को गिरफ़्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार, गाजियाबाद में शादीशुदा बॉयफ्रेंड ने बेटे के साथ मिलकर कार में शादीशुदा प्रेमिका की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद लाश रोड पर फेंककर एक्सीडेंट का रूप दे दिया। इतना ही नहीं, उसने एक ट्रक ड्राइवर को पकड़कर जमकर पीटा। उससे हत्या की बात कबूल करवाई।
महिला के पति ने ट्रक ड्राइवर पर करवाई  FIR
जब महिला के पति को यह बात पता चली तो उसने ट्रक ड्राइवर पर एफआईआर करवा दी। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम कराया। इसमें पता चला कि महिला की मौत गला दबाने से हुई है। इसके बाद पुलिस ने बॉयफ्रेंड और उसके बेटे को उठाया। उसने सख्ती से पूछताछ की, तो जुर्म कबूल कर लिया। फिलहाल पुलिस ने बॉयफ्रेंड चरन सिंह, उसके बेटे रोहित और उसके दोस्त संदीप को गिरफ्तार कर लिया है। मामला कविनगर थाना क्षेत्र का है। 17 जनवरी की दोपहर चरन सिंह ने मोनिका को फोन कर गाजियाबाद बुलाया। इसके बाद जीटी रोड के एक होटल में ले गए।
7 साल से चल रहा था अफेयर
डीसीपी निपुण अग्रवाल के मुताबिक, मृतक महिला का नाम मोनिका है। वह नोएडा के गिरधरपुर सुनारसी गांव की रहने वाली थी। इसी गांव के रहने वाले चरन सिंह से उसका 7 साल से अफेयर चल रहा था। इस बात की जानकारी चरन के घरवालों को हो गई थी। इससे उसका बेटा रोहित और अन्य परिजन नाराज चल रहे थे। इधर, चरन सिंह पर मोनिका मकान खरीदकर देने का दबाव बना रही थी। इसकी भी जानकारी चरन के बेटे रोहित को हो गई थी। रोहित ने पिता से कहा कि कहा कि तुमने पहले ही हमारी जिंदगी नरक बना रखी है, मोनिका का कुछ इलाज करो वरना मैं तुम्हें भी नहीं छोडूंगा। इस पर बाप-बेटे ने मोनिका का मर्डर करने की प्लानिंग बनाई। इसमें अपने दोस्त संदीप को भी शामिल किया।
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला मौत की वज़ह 
17 जनवरी की दोपहर चरन सिंह ने मोनिका को फोन कर गाजियाबाद बुलाया। इसके बाद प्लान के तहत रोहित-संदीप पहले से अपनी कार लेकर तैयार खड़ा था। महिला को अंदर बैठाकर कुछ दूर ले गए। इसके बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। फिर शव को श्रीजी धर्मकांटे के पास फेंक दिया। इसके बाद इन्होंने एक ट्रक ड्राइवर को मारा-पीटा, उससे एक्सीडेंट की बात कबूलवाई। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा था। 19 जनवरी को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, तो इसमें चौंकाने वाले खुलासे हुए। रिपोर्ट में पता चला कि महिला की मौत एक्सीडेंट की वजह से नहीं हुई थी, बल्कि उसको गला दबाकर मारा गया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − twenty =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।