uttar pradesh: ब्रजेश पाठक ने कहा- निजी पैथोलॉजी जांच के नाम पर मुनाफाखोरी न करने पाएं

उत्‍तर प्रदेश के उप मुख्‍यमंत्री ब्रजेश पाठक ने प्रदेश में डेंगू संक्रमण पूरी तरह से नियंत्रण में होने का दावा करते हुए शनिवार को सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों (सीएमओ) को निर्देश दिया

उत्‍तर प्रदेश के उप मुख्‍यमंत्री ब्रजेश पाठक ने प्रदेश में डेंगू संक्रमण पूरी तरह से नियंत्रण में होने का दावा करते हुए शनिवार को सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों (सीएमओ) को निर्देश दिया कि संबंधित जिलों में वे चिकित्सालयों का नियमित निरीक्षण करें और इस बात का ध्यान रखें कि निजी लैब्स जांच के नाम पर मुनाफाखोरी न करने पायें। प्रदेश में स्‍वास्‍थ्‍य और चिकित्‍सा महकमा संभाल रहे उप मुख्‍यमंत्री पाठक ने शनिवार को विधानसभा स्थित अपने कार्यालय कक्ष में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ प्रदेश में डेंगू तथा अन्य संचारी रोगों के नियंत्रण एवं रोकथाम की समीक्षा की।
नाराजगी की अटकलों के बीच दिल्ली बुलाए गए यूपी के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक -  UP politics deputy CM Brijesh pathak reportedly been called to Delhi ntc -  AajTak
शनिवार को जारी सरकारी बयान के अनुसार उपमुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सालयों को अत्याधुनिक मशीनों और उपकरणों से सुसज्जित किया जा रहा है। उन्होंने सभी सीएमओ को निर्देश दिया है कि चिकित्सालयों में आने वाले मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, उन्हें उच्च कोटि की स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करायी जाएं और चिकित्सालयों में पर्चा काउंटर पर किसी भी दशा में भीड़ न लगे।
Kanpur Violence: Deputy CM Brijesh Pathak Says People Involved Being Marked  Guilties Will Not Be Spared | Kanpur Violence: डिप्टी सीएम बृजेश पाठक बोले-  दोषियों को चिह्नित करने का काम शुरू, करेंगे
उन्‍होंने कहा, ”प्रदेश में डेंगू का संक्रमण पूरी तरह से नियंत्रण में है, इसको लेकर आमजन को किसी भी प्रकार से घबराने की आवश्यकता नहीं है।” उन्होंने कहा कि ”सभी लोग डेंगू के बचाव हेतु जारी आवश्यक सावधानियां बरतें और पूरी आस्तीन के कपड़े पहने, मच्छरदानी का प्रयोग करें, अपने आसपास सफाई करें एवं जल जमाव न होने दें तथा मच्छर काटने से बचाव करें। पाठक ने बताया कि प्रदेश में इस वर्ष अब तक डेंगू के 4,801 मरीज सामने आए हैं, जबकि गत वर्ष इस अवधि तक यह आंकड़ा 17,729 था। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सरकारी चिकित्सालयों में डेंगू के उपचार के लिये पर्याप्त दवाइयां, बिस्तर एवं आवश्यक अन्य संसाधन उपलब्ध हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।