उत्तर प्रदेश : मुलायम की विरासत संभालेंगी बहू डिंपल यादव, मैनपुरी सीट से लड़ेंगी चुनाव

उत्तर प्रदेश में खाली हुई मैनपुरी लोकसभा और रामपुर विधान सभा की सीटों के लिए चुनाव की तारीखों का ऐलान चुनाव आयोग ने कर दिया है।

उत्तर प्रदेश में खाली हुई मैनपुरी लोकसभा और रामपुर विधान सभा की सीटों के लिए चुनाव की तारीखों का ऐलान चुनाव आयोग ने कर दिया है। दोनों सीटों पर 5 दिसंबर को मतदान होगा जबकि 8 दिसंबर को मतगणना होगी। मैनपुरी सीट मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई थी जबकि रामपुर सीट समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की सदस्यता रद्द होने के बाद खाली हुई है। पिछले कुछ दिनों से इस बात की चर्चा ज्यादा हो रही थी कि सपा द्वारा मैनपुरी सीट से किसे खड़ा किया जाएगा तो अब ये बात साफ हो गई है कि अखिलेश यादव ने इस सीट से अपनी पत्नी डिंपल यादव को खड़ा कर दिया है। यानि अब विरासत घर में ही रह गई है। 
सपा के लिए महत्वपूर्ण दोनों सीट 
समाजवादी पार्टी के लिए ये दोनों सीट काफी महत्वपूर्ण है। जिसे अखिलेश यादव हर हाल में बचाना चाहते है। बीते दिन अखिलेश सैफई गए थे, जहां उन्होंने परिवार के लोगों से प्रत्याशी के नाम पर काफी देर तक चर्चा की थी । सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव भी सैफई पहुंच गए थे। अखिलेश यादव ने रामगोपाल के घर जाकर लगभग डेढ़ घंटे मैनपुरी उपचुनाव और पार्टी के प्रत्याशी को लेकर मंथन किया। जिसके बाद डिंपल के नाम पर मुहर लगी। 
बीजेपी भी करेगी जल्द उम्मीदवार के नाम का ऐलान 
हालांकि, खबरे ये भी आ रही थी कई अखिलेश इस सीट से अपने चाचा शिवपाल को खड़ा कर सकते है लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। अखिलेश ने इस सीट से पत्नी डिंपल को खड़ा करके वोट बैंक को बचाने की पूरी कोशिश की है। मुलायम सिंह यादव इस सीट से पांच बार सांसद रहे हैं। सपा का गढ़ ये सीट  माना जाता है। वही अब सपा के ऐलान के बाद बीजेपी भी अपने उम्मीदवार की घोषणा कर सकती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 8 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।