आम लोगों के मुद्दों पर क्यों चुप है SP और BJP? प्रियंका बोलीं- सिर्फ कांग्रेस के दबाव में कर रहे चर्चा

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने आरोप लगाया कि भाजपा और सपा चुनाव के दौरान आतंकवाद पर बात कर रही हैं।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने बुधवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान आतंकवाद पर बात कर रही हैं तथा बेरोजगारी, महंगाई, महिला सशक्तिकरण और छोटे किसानों और कारोबारियों की मदद जैसे मुख्य मुद्दों से ध्यान भटका रही हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि अन्य पार्टियां आवारा मवेशियों और महिलाओं के मुद्दों को, इन पर कांग्रेस द्वारा चुनाव अभियान में बोलने के बाद उठा रही हैं।
महंगाई और रोजगार जैसे मुद्दों पर बात करें SP और BJP
प्रियंका गांधी ने कहा, ‘‘सपा और भाजपा जैसी पार्टियां महंगाई कम करने, रोजगार देने, महिलाओं के सशक्तिकरण, छोटे और मझोले स्तर के कारोबारियों और किसानों की बेहतर कमाई में मदद करने के मुद्दों पर से ध्यान लगातार भटका रही हैं।’’ उन्होंने कहा कि ये मुद्दे चुनाव के दौरान प्रमुख मुद्दे होने चाहिए लेकिन वे (भाजपा और सपा) आतंकवाद पर चर्चा कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि ये दल लोगों की रोजमर्रा की समस्याओं पर केवल दबाव में बात कर रहे हैं।
आवारा पशुओं के उत्पात पर भी प्रियंका ने मांगा जवाब  
कांग्रेस महासचिव ने आवारा पशुओं के मुद्दे पर कहा कि उनकी पार्टी लंबे समय से यह मुद्दा उठा रही है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी आवारा पशुओं के मुद्दे को वर्ष 2019 से उठा रही है और अपने चुनावी घोषणा पत्र में मुआवजा देने की घोषणा भी की है। उन्होंने कहा ‘‘चुनाव करीब होने की वजह से अचानक प्रधानमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि उन्हें सूचित किया गया कि यह बड़ा मुद्दा है- सच में? पूरे उत्तर भारत में वर्षों से आवारा मवेशियों के कारण लोग नुकसान उठा रहे हैं और उन्हें अब यह समस्या पता चली है।’’
आतंकवाद पर व्याख्यान देते हैं और प्रतिशत में करते हैं बात :योगी 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा कि वह सार्वजनिक रूप से आतंकवाद पर व्याख्यान देते हैं और प्रतिशत में बात करते हैं। प्रियंका ने कहा, ‘‘ योगी जी चुनाव के चौथे चरण के दौरान, आज आवारा पशुओं से होने वाले नुकसान के लिए मुआवजे की घोषणा क्यों कर रहे हैं? जब वह सार्वजनिक रूप से आतंकवाद पर व्याख्यान दे रहे थे और 80 प्रतिशत तथा 20 प्रतिशत का तर्क दे रहे थे, तब क्या उन्हें इस समस्या की जानकारी नहीं थी? ’’ उन्होंने कहा ‘‘वह (योगी) प्रतिशत में बात करना पसंद करते हैं, वह गत पांच साल से मुख्यमंत्री हैं। वह उत्तर प्रदेश में बेरोजगार युवाओं का प्रतिशत हमें क्यों नहीं बताते?’’

बाराबंकी में बोले PM मोदी-हम ‘परिवार वाले’ नहीं लेकिन समझते हैं परिवार का दर्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।