CM योगी पर भड़के जयंत चौधरी, कहा- आशीष मिश्रा की जमानत के खिलाफ SC क्यों नहीं गई UP सरकार

राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आड़े हाथ लेते हुए आरोप लगाया कि भाजपा किसान विरोधी है।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का दंगल अभी जारी है। क्षेत्रीय दल समेत सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने सियासी दांव-पेंच आजमा रही है। तो दूसरी तरफ, राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आड़े हाथ लेते हुए आरोप लगाया कि भाजपा किसान विरोधी है। 

भाजपा सरकार किसान विरोधी है 
उन्होंने यह भी सवाल किया कि उत्तर प्रदेश सरकार केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे और लखीमीपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को जमानत देने के इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय क्यों नहीं गई? चौधरी की यह टिप्पणी लखीमपुर हिंसा के पीड़ितों द्वारा विधानसभा चुनाव के लिए मतदान से एक दिन पहले उच्चतम न्यायालय का रुख करने के बाद आई है। 
उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘योगी जी को बताना चाहिए, वो आशीष मिश्रा टेनी को जमानत मिलने से इतने प्रसन्न क्यों हुए? उत्तर प्रदेश सरकार ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय के निर्णय के विरुद्ध सर्वोच्च न्यायालय में पुनर्विचार याचिका क्यों प्रस्तुत नहीं की ? बात साफ़ है: भाजपा सरकार किसान विरोधी है!’’ 
चार महीने की कैद के बाद हुई रिहाई  
गौरतलब है कि 10 फरवरी को इलाहाबाद उच्च न्यायालय की एकल पीठ ने मिश्रा को चार महीने कैद में रहने के बाद जमानत दे दी थी। पिछले साल तीन अक्टूबर को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के इलाके दौरे के विरोध में किसानों के प्रदर्शन के दौरान हिंसा हुई थी जिसमें चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।