बाइडन ने की ओलंपिक के खिलाड़ियों की सराहना, कहा- अमेरिका के नागरिकों के लिए एक उदाहरण पेश किया

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कोरोना वायरस की चुनौतियों के बावजूद मनोबल बनाए रखते हुए देशवासियों का मान बढ़ाने के लिए ओलंपिक खिलाड़ियों की सराहना की।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कोरोना वायरस की चुनौतियों के बावजूद मनोबल बनाए रखते हुए देशवासियों का मान बढ़ाने के लिए ओलंपिक खिलाड़ियों की सराहना की। बाइडन ने प्रथम महिला जिल बाइडन के साथ शनिवार शाम को डेलावेयर में विलमिंगटन स्थित अपने आवास से जूम कॉल से अमेरिकी टीम से बात की। दंपति ने खिलाड़ियों की उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए उन्हें व्हाइट हाउस आने का न्योता दिया। 
बाइडन दंपति ने कहा कि खिलाड़ियों ने अमेरिका के नागरिकों के लिए एक उदाहरण पेश किया है। राष्ट्रपति ने खिलाड़ियों से कहा, ‘‘आपने बहुत शानदार और शालीन तरीके से अपने आप को संभाला। आपने मुझे बहुत गौरवान्वित कराया है।’’ बाइडन ने जिमनास्ट सिमोन बाइल्स को कहा कि अपने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए तोक्यो खेल के कार्यक्रमों से खुद को बाहर रखने के उनके फैसले ने अन्य के लिए एक उदाहरण पेश किया है।
बाद में उन्होंने वापसी की और बैलेंस बीम फाइनल में कांस्य पदक जीता। बाइडन ने कहा कि आपने यह कहने की हिम्मत दिखाई कि मुझे मदद की जरूरत है। आपने हर किसी के सामने उदाहरण पेश किया और आपने वापसी कर शानदार प्रदर्शन किया। बाइडन ने कहा कि वह इस बात से बहुत खुश हैं कि कैसे 800 मीटर की सेमीफाइनल हीट के दौरान धावक यशायाह ज्वेट और बोत्सवानिया के निजेल अमोस एक दूसरे से टकराकर गिर गए, लेकिन ज्वेट ने खुद को संभाला। ज्वेट और अमोस ने एक-दूसरे को अपने पैरों पर खड़ा होने में मदद की और विजेता के 54 सेकंड बाद दौड़ पूरी की। 
बाइडन ने कहा कि उनकी इस खेल भावना का ‘‘दुनिया भर में गहरा प्रभाव पड़ा।” उन्होंने कहा कि अमेरिका जब दुनिया का नेतृत्व करता है तो वह हमारी शक्ति के उदाहरण से नहीं बल्कि हमारे उदाहरण की शक्ति से आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि यही ईश्वर का सत्य है। आप इसके प्रतीक हैं और हम इसके लिए आपको धन्यवाद देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 8 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।