कनाडा में हिंदू-विरोधी और भारत-विरोधी ताकतों ने हाथ मिलाया : सांसद चंद्र आर्य

डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर पर विवाद बढ़ता जा रहा है। कनाडा के भारतीय मूल के सांसद चंद्र आर्य ने बुधवार को कहा कि कनाडा में हिंदू-विरोधी और भारत-विरोधी ताकतों ने हाथ मिला लिया है।

डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर पर विवाद बढ़ता जा रहा है। कनाडा के भारतीय मूल के सांसद चंद्र आर्य ने बुधवार को कहा कि कनाडा में हिंदू-विरोधी और भारत-विरोधी ताकतों ने हाथ मिला लिया है। बता दें कि कनाडाई सांसद चंद्र आर्य मूल रूप से कर्नाटक के रहने वाले हैं। उन्होंने फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलई के हिंदू देवी काली के एक आपत्तिजनक पोस्टर की निंदा की।
चंद्र आर्य ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर कहा, फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलई द्वारा काली पोस्टर को देखकर दुख हुआ। पिछले कुछ सालों में कनाडा में पारंपरिक हिंदू विरोधी और भारत विरोधी समूह एकजुट हो गए हैं, जिसके परिणामस्वरूप मीडिया में हिंदू फोबिक आर्टिकल और हमारे मंदिरों पर हमले हुए हैं।
पोस्टर में हिंदू देवी काली को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। आक्रामक पोस्टर ने भारत में आक्रोश पैदा कर दिया है। देवी काली पूरे भारत में पूजनीय हैं और बुराई को खत्म करने वाली एक शक्ति का प्रतीक है। चंद्र आर्य ने इससे पहले कनाडा की संसद में कन्नड़ भाषा में भाषण देकर सुर्खियां बटोरी थीं। वीडियो हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। मातृभाषा के प्रति उनके प्रेम के भाव को पूरे देश में सराहा गया। चंद्र आर्य कर्नाटक के तुमकुरु जिले के सिरा तालुक के द्वालालू गांव के रहने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।