नैन्सी पेलोसी की ताइवान यात्रा पर चीन की गीदड़भभकी, सैन्य कार्रवाई की चेतावनी

अमेरिकी संसद के सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ताइवान की यात्रा पर जा रही हैं। इस पर चीन भड़का हुआ है और उसने सुश्री पेलोसी के ताइवान यात्रा पर अमेरिका को सैन्य कार्रवाई की धमकी दी है। एक समाचार एजेंसी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

अमेरिकी संसद के सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ताइवान की यात्रा पर जा रही हैं। इस पर चीन भड़का हुआ है और उसने सुश्री पेलोसी के ताइवान यात्रा पर अमेरिका को सैन्य कार्रवाई की धमकी दी है। एक समाचार एजेंसी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
अगर पेलोसी ताइवान यात्रा पर जाएगी तो चीन चुप नहीं बैठेगा – चीन 
सुश्री पेलोसी मंगलवार को ताइवान की यात्रा पर जा रही हैं। इस पर चीन भड़का हुआ है और उसने कहा कि यदि वह ताइवान जाती हैं तो चीनी सेना चुप नहीं बैठेगी। चीन की धमकी पर अमेरिका का भी बयान सामने आया है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा समन्वयक जॉन किर्बी ने कहा सुश्री पेलोसी की ताइवान यात्रा पर चीन की ओर से मिसाइल दागना या बड़ पैमाने पर हवाई या नौसैनिक गतिविधियां शामिल हो सकती हैं।
ताइवान अपने मेहमान के लिए सबसे उपयुक्त व्यवस्था करेगा – ताइवान  
अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष सुश्री पेलोसी ने आज अपने एशिया दौरे पर मलेशिया का दौरा किया। ताइवानी और अमेरिकी मीडिया का हालांकि कहना है कि वह आज रात ताइपे जाने की योजना बना रही हैं, लेकिन इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। रिपोर्टर के सवालों का जवाब देते हुए हालांकि ताइवान के प्रमुख सु त्सेंग-चांग ने कहा कि यह द्वीप किसी भी विदेशी मेहमान का ‘गर्मजोशी से स्वागत’ करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि ताइवान अपने मेहमान के लिए सबसे उपयुक्त व्यवस्था करेगा। उन्होंने कहा ताइवान एक स्व-शासित द्वीप है, लेकिन चीन बार बार उस पर दावा करता है, जो इसे वह अपने एक अलग प्रांत के रूप में देखता है। सुश्री पेलोसी के ताइवान यात्रा को लेकर चीन ने इसके गंभीर परिणाम की चेतावनी दी है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + 6 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।