अभियोग की मंजूरी के बाद 24 घंटे में Donald Trump ने जुटाए 4 मिलियन Dollar

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार अभियान के दौरान 2016 में एक पोर्न स्टार को चुप रहने के लिए धन देने के मामले में डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ अभियोग चलाने की मंजूरी दिए जाने के बाद पूर्व राष्ट्रपति ने 24 घंटे में 40 लाख डॉलर से अधिक की राशि जुटाई।

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार अभियान के दौरान 2016 में एक पोर्न स्टार को चुप रहने के लिए धन देने के मामले में डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ अभियोग चलाने की मंजूरी दिए जाने के बाद पूर्व राष्ट्रपति ने 24 घंटे में 40 लाख डॉलर से अधिक की राशि जुटाई।
ट्रम्प के खिलाफ अभियोग…
मीडिया में जारी एक विज्ञप्ति में शुक्रवार को बताया गया कि ट्रंप की चुनाव प्रचार मुहिम के लिए इसमें से 25 प्रतिशत से अधिक राशि उन लोगों ने उपलब्ध कराई है, जिन्होंने पहली बार उन्हें चंदा दिया है।विज्ञप्ति में कहा गया कि जमीनी स्तर पर चंदे में यह अभूतपूर्व वृद्धि इस बात की पुष्टि करती है कि अमेरिकी लोग पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प के खिलाफ अभियोग को ‘‘अभियोजक द्वारा हमारी न्याय प्रणाली के अपमानजनक रूप से हथियार की तरह इस्तेमाल किए जाने’’ के रूप में देखते हैं।
मैं जारी आपराधिक मामले में कोई टिप्पणी नहीं करूंगी
व्हाइट हाउस ने ट्रंप के खिलाफ अभियोग को मंजूरी मिलने पर टिप्पणी करने के इनकार कर दिया है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार को कहा, ‘‘मुझे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करनी।’’ उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने जाम्बिया में संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं जारी आपराधिक मामले में कोई टिप्पणी नहीं करूंगी, क्योंकि यह पूर्व राष्ट्रपति से जुड़ा है।’’
आपराधिक आरोपों का कर रहे हैं सामना 
उल्लेखनीय है कि अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार अभियान के दौरान 2016 में एक पोर्न स्टार को चुप रहने के लिए धन देने के मामले में मैनहट्टन ग्रैंड जूरी ने ट्रंप के खिलाफ अभियोग चलाने का फैसला किया है और वह मंगलवार को अदालत में पेश होंगे। वह देश के पहले पूर्व राष्ट्रपति हैं जो आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं।
अभियोग के पक्ष में किया मतदान 
इस फैसले से 2024 में फिर से राष्ट्रपति बनने की उनकी उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। ग्रैंड ज्यूरी ने बृहस्पतिवार को रिपब्लिकन पार्टी के नेता ट्रंप (76) पर पोर्न स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स को कथित संबंधों को लेकर चुप रहने के लिए पैसे देने में उनकी भूमिका को लेकर अभियोग के पक्ष में मतदान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।