पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने अपने लेटेस्ट अपडेट में कहा कि जून के मध्य से पाकिस्तान में इस मौसम की विनाशकारी मानसूनी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,700 हो गई है

पड़ोसी देश पाकिस्तान में इन दिनों बाढ़ से कोहराम मचा रखा हुआ है जिसके कारण यहां के निवासियों का बुरा हाल हो रखा हैं। जिसकों लेकर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने यह पूरी तरह से स्पष्ट कर दिया है कि इस वर्ष के मध्य जून में पाकिस्तान में इस मौसम की विनाशकारी बारिश और बाढ़ की वजह से 1700 आम नागरिकों की मौत हो गई हैं, वहीं, इस भीषण बाढ़ से 12,867 निवासियों घायल हो गये हैं।  
बाढ़ से पाकिस्तान में मरने वालों की संख्या
मिली जानकारी के मुताबिक एनडीएमए ने बताया कि देश भर में अलग अलग भीषण बाढ़ से संबंधित दुर्घटनाओं में अपनी जान गंवाने वालों में 632 बच्चे और 340 महिलाएं पूर्ण रूप से  शामिल हो चुके हैं। हालांकि,  सिंध प्रांत 763 मौतों के साथ सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र में  है वहीं,  बलूचिस्तान (336), खैबर पख्तूनख्वा (308) और पंजाब (221) हैं।
About 1,700 people have died in Pakistan due to monsoon rains and floods. |  मानसूनी बारिश और बाढ़ से अब तक करीब 1,700 लोगों की मौत - दैनिक भास्कर हिंदी
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि  2,048,789 घर पूरी तरह से  नष्ट हो गए हैं, और इसके बाद भी लगभग 1,163,237 पशुधन मारे जा चुके हैं। हालांकि,NDMA  अन्य सरकारी संगठनों, स्वयंसेवकों और गैर-सरकारी संगठनों द्वारा बचाव और राहत कार्य जारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + sixteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।