कोरिया देशों ने जारी रखी मिसाइलें, जापान में इमरजेंसी अलर्ट, लोगों को घरों में रहने की हिदायत

उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच मिसाइल फायरिंग फ़िलहाल जारी है। जिसके चलते जापान में इमरजेंसी अलर्ट लग चूका है। उत्तर कोरिया द्वारा आज यानी गुरुवार सुबह मिसाइल दागे जाने के बाद जापान सरकार ने यह फैसला लिया है।

उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच मिसाइल फायरिंग फ़िलहाल जारी है। जिसके चलते जापान में इमरजेंसी अलर्ट लग चूका है। उत्तर कोरिया द्वारा आज यानी गुरुवार सुबह मिसाइल दागे जाने के बाद जापान सरकार ने यह फैसला लिया है। जापान ने निवासियों को घर के अंदर रहने का निर्देश दिया है। मिली खबर के मुताबिक यह मिसाइल प्रशांत महासागर में कहीं गिर गई है।
उत्तर कोरिया ने दागी 23 मिसाइल 
जापान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा, “उत्तर कोरिया ने एक संदिग्ध बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च की है।” कार्यालय के मुताबिक, जापानी हवाई क्षेत्र के माध्यम से एक बैलिस्टिक मिसाइल का इस तरह से फायरिंग करना जो संभावित रूप से जापानी लोगों के जीवन और संपत्ति को प्रभावित कर सकता है।
उत्तर कोरिया द्वारा भविष्य में उठाए जाने वाले संभावित कदमों पर सूचना एकत्र करना और विश्लेषण जारी रहेगा। साथ ही सरकार ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि अमेरिका कोरिया गणराज्य और अन्य संबंधित देशों के साथ जवाबी कार्रवाई की प्रक्रिया में शामिल होगा। एक दिन पहले बुधवार को उत्तर कोरिया द्वारा 23 मिसाइल दागे जाने के बाद दक्षिण कोरिया के एक द्वीप पर हवाई हमले का सायरन बजाया गया था और लोगों को भूमिगत बंकरों में ले जाया गया था। 
इतिहास में सबसे खराब कीमत” चुकानी पड़ सकती
उत्तर कोरिया द्वारा दागी गई मिसाइलों में से कम से कम एक दक्षिण कोरियाई द्वीप की ओर जा रही थी। हालांकि, मिसाइल दोनों प्रतिद्वंद्वियों की समुद्री सीमा के पास गिर गई। दक्षिण कोरिया ने भी जवाबी कार्रवाई में उसी सीमा क्षेत्र में अपनी मिसाइल दागी। इससे कुछ घंटे पहले, उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरियाई-अमेरिकी सैन्य अभ्यास के विरोध में दोनों देशों को धमकी दी थी कि उन्हें “इतिहास में सबसे खराब कीमत” चुकानी पड़ सकती है। 
उत्तर कोरिया ने भी परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की धमकी दी थी। अमेरिका ने कहा था कि उत्तर कोरिया के प्रति उसका कोई शत्रुतापूर्ण इरादा नहीं है और उसने उत्तर कोरिया की परमाणु महत्वाकांक्षाओं को रोकने के लिए अपने सहयोगियों के साथ मिलकर काम करने पर जोर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।