म्यांमार के आर्मी हेलीकाप्टर ने स्कूल पर बरसाई गोलियां, 7 बच्चों समेत 13 लोगों की मौत

म्यांमार सेना के हेलीकॉप्टरों ने एक गांव में बने स्कूल पर गोलीबारी की। जिसमें 7 बच्चों समेत कुल 13 लोगों की मौत हो गई।

म्यांमार में सेना लोकतंत्र समर्थकों का लगातार दमन कर रही है। जिसका आम जनता बड़ा खामियाजा भुगत रही है। हाल ही में सेना के हेलीकॉप्टरों ने एक गांव में बने स्कूल पर गोलीबारी की। जिसमें 7 बच्चों समेत कुल 13 लोगों की मौत हो गई। स्कूल एडमिनिस्ट्रेटर और एक सहायता कर्मी ने सोमवार को इस घटना की जानकारी दी।
म्यांमार के दूसरे सबसे बड़े शहर मंडाले से लगभग 110 किमी दूर तबायिन के लेट यॉट कोन गांव में शुक्रवार को यह हमला हुआ। हमले पर सेना का भी जवाब सामने आया, जिसमें उन्होंने कहा कि विद्रोही इस इमारत का इस्तेमाल कर सुरक्षाकर्मियों पर हमले कर रहे थे। इसलिए सेना ने फायरिंग की।

रूस के यूक्रेनी नागरिक ठिकानों पर हमले तेज करने के आसार – ब्रिटेन

स्कूल की एक प्रशासक ने कहा कि गांव के उत्तर में मंडरा रहे चार में से दो एमआई -35 हेलीकॉप्टर ने मशीनगनों और भारी हथियारों से स्कूल पर हमला करना शुरू कर दिया तो वह छात्रों को ग्राउंड फ्लोर की क्लास में सुरक्षित स्थानों पर ले जाने की कोशिश करने लगी। 
उन्होंने कहा कि स्कूल में छह छात्रों की मौत हो गई और पास के एक गांव में 13 वर्षीय एक लड़के की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई। बता दें कि फरवरी 2021 में म्यांमा में सेना की ओर से किए गए तख्तापलट के बाद से वहां की स्थिति भी लगातार श्रीलंका और पाकिस्तान जैसे आर्थिक संकट की ओर बढ़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।