पूर्व राष्ट्रपति ओबामा ने डोनाल्ड ट्रंप के सभी दावों को बताया फर्जी और बेतुका

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने चुनाव के नतीजों को खारिज करने के रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं के प्रयासों पर चिंता जताई।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को खारिज करने के रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं के प्रयासों पर चिंता जताई और कहा कि वे डोनाल्ड ट्रंप के ‘फर्जी’ दावों का इसलिए बचाव कर रहे हैं क्योंकि वे डरे हुए हैं। देश में 3 नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडन की जीत हुई लेकिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी हार मानने से इंकार कर दिया और कई राज्यों में चुनावी परिणाम को चुनौती देते हुए मामला दायर किया है।
ओबामा ने अमेरिकी चैनल एमएसएनबीसी से कहा, ‘‘हर अमेरिकी परेशान हुआ है, चाहे वह डेमोक्रेट हो या रिपब्लिकन या अलग दृष्टिकोण रखने वाला। कुछ भी अवैध या फर्जीवाड़ा होने का सबूत नहीं होने के बावजूद जब आप लोगों के वोट को खारिज करने का प्रयास करते हैं, तो यह परेशान करता है।’’उन्होंने ट्रंप के ‘बेतुके’ दावों को मंच प्रदान करने वाले समाचार संगठनों की भी आलोचना की। पूर्व राष्ट्रपति ओबामा ने कहा, ‘‘आपने देखा होगा कि रूढिवादी नजरिया रखने वाले कुछ समाचार संगठनों ने उन्हें मंच मुहैया कराया जबकि आप जानते हैं कि ये फर्जी दावे हैं।’’
प्रचार अभियान के अंतिम चरण में ओबामा ने पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडन और कमला हैरिस के लिए पेंसिलवेनिया, मिशिगन, फ्लोरिडा और जॉर्जिया जैसे महत्वपूर्ण राज्यों में प्रचार किया था। ओबामा ने कहा, ‘‘अदालतों ने उनके दावों को खारिज किया है। मैं हैरान हूं कि ट्रंप ऐसा कर रहे हैं । ट्रंप जो दावा कर रहे हैं, कई रिपब्लिकन भी उनका साथ दे रहे हैं, यह बहुत परेशान करने वाली बात है। वे इसमें भरोसा करते हैं इसलिए ऐसा नहीं कर रहे, बल्कि वे डरे हुए हैं।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 13 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।