आटे की मारामारी के बाद पाकिस्तान के कई इलाको में बिजली गुल, पीने को पानी भी नहीं

पाकिस्तान में भुखमरी के कारण हाहाकाकर मचा हुआ बीते दिनों जिस तरह से आटे को लेकर मारामारी हुई और गोलियां भी चली। इससे पाकिस्तान के हालात बिल्कुल साफ है। इन दिनों पाकिस्तान सियासी संकट और आर्थिक संकट से बुरी तरह जूझ रहा है।

पाकिस्तान में भुखमरी के कारण हाहाकाकर मचा हुआ बीते दिनों जिस तरह से आटे को लेकर मारामारी हुई और गोलियां भी चली। इससे पाकिस्तान के हालात बिल्कुल साफ है। इन दिनों पाकिस्तान सियासी संकट और आर्थिक संकट से बुरी तरह जूझ रहा है।
 इसके साथ ही पाकिस्तान में बिजली संकट भी दस्तक दे चुका है। एसा हम इसलिए कह रहै है क्योंकि यहां 24 घंटे से बिजली गुल है।लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। इस समस्या को लेकर प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की सरकार ने सोमवार रात 10 बजे की डेडलाइन दी थी।
लेकिन इसके बावजूद,पड़ोसी मुल्‍क के कई हिस्‍से  में अब भी  लाईट नहीं हैं । जिसके बाद शरीफ सरकार ने बिजली गुल होने की जांच के आदेश दिए हैं। बिजली को लेकर पाकिस्‍तान के ऊर्जा मंत्री खुर्रम दस्‍तगीर ने कहा कि बिजली ‘वोस्‍टेज सर्ज’ के चलते गुल हुई। बता दें पिछले तीन महीनों में दूसरी बार पाकिस्‍तान की ग्रिड फेल हुई है। 
कराची जैसे बड़े शहरों में बत्ती गुल
एसा लग रही है कि पाकिस्‍तान के लोगों को रोज-रोज ब्‍लैकआउट्स की आदत हो चुकी है। आर्थिक बदहाली से जूझ रहे पाकिस्तान के सामने बिजली संकट नई चुनौती के रूप में दस्तक दे चुका है। इस्लामाबाद, लाहौर और कराची जैसे लगभग सभी बड़े शहर सोमवार से ही अंधेरे में डूबे  हैं। जिसकी वजह से पानी भी लोगों को नहीं मिल पा रहा है। साथ ही  लोगों के मोबाईल फोन चार्ज नहीं होने से लोग फोन पर अपना काम भी नहीं कर पा रहे है। 1674555801 sehbaz
बिजली के संकट ने लोगों को रुलाया
पाकिस्तान में पहले भी बिजली की किल्लत होती रही है। इसलिए सरकार बिजली बचाने के लिए बाजारों को 8 बजे ही बंद करने का आदेश जारी कर चुकी है। आर्थिक संकट में डूबे पाकिस्तान में पहले आटा, फिर गैस और पेट्रोल का संकट आया और  इसके बाद अब बिजली  के संकट ने लोगों को रुला दिया है।
ऊर्जा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने बताई वजह 1674555867 kuram
बिजली के संकट को लेकर पाकिस्तान के ऊर्जा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने कहा है कि सर्दियों में बिजली की मांग कम हो जाती है। ऐसे में आर्थिक उपाय के रूप में हम रात में पावर जेनरेशन यूनिट को अस्थायी रूप से बंद कर देते हैं। सोमवार सुबह जब सिस्टम चालू किया तो देश के दक्षिण में दादू और जमशोरो के बीच वोल्टेज में उतार-चढ़ाव आया, जिससे ग्रिड पर असर पड़ा। इस करह से वो बिजली के संकट को लेकर अपना बचाव कर रहे है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।