टैक्स में कटौती को लेकर ब्रिटिश पीएम लिज ट्रस पर बना दबाव

आर्थिक नीतियों को विरोध का सामना ब्रिटीश पीएम काफी दवाब का सामना कर रही हैं, सत्तारूढ दल के नेता ही पीएम लिज ट्रस पर टैक्स कटौती को लेकर दवाब बना रहे हैं। लेकिन मंत्रिमंडल में पीएम लिज ट्रस को सहयोगियों का साथ मिल रहा हैं।

आर्थिक नीतियों को विरोध का सामना ब्रिटीश पीएम काफी दवाब का सामना कर रही हैं, सत्तारूढ दल के नेता ही पीएम लिज ट्रस पर टैक्स कटौती को लेकर दवाब बना रहे हैं। लेकिन मंत्रिमंडल में पीएम लिज ट्रस को सहयोगियों का साथ मिल रहा हैं।  विरोध कर रहे नेता का मानना हैं कि देश की आर्थिक नीति जीवन-यापन के संकट के बीच अमीरों के पक्ष में हैं, जिनको विपक्षी दलों का समर्थन मिल रहा हैं।  
लिज ट्रस को विदेश मंत्री ने दी चेतावनी
विदेश मंत्री जेम्स क्लेवर्ली ने चेतावनी दी कि छह सितंबर को पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक के साथ नेतृत्व की लड़ाई में पार्टी सदस्यों द्वारा चुने जाने के ठीक एक महीने बाद, ट्रस को टोरी नेता के रूप में बदलने के बारे में सोचना एक “विनाशकारी बुरा विचार” होगा। तब से पिछले महीने के अंत में पेश किए गए सरकार के लघु-बजट ने वित्त मंत्री क्वासी क्वार्टेंग द्वारा पेश किए गए कर कटौती की प्रस्ताव की आशंका के कारण वित्तीय बाजारों में उथल-पुथल मचा दी है। यह तब है जब देश के सबसे धनी लोगों के लिए शीर्ष दर को समाप्त करने के लिए सरकार को अपना रुख बदलने पर मजबूर होना पड़ा।
आर्थिक रूप से नेतृत्व बदलना एक विनाशकारी बुरा विचार होगा
आर्थिक उथल-पुथल के संदर्भ में क्लेवर्ले ने एक समाचार एजेंसी को बताया, “हमें यह समझना होगा कि हमें बाजारों में निश्चितता लाने की जरूरत है।” उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि न केवल राजनीतिक बल्कि आर्थिक रूप से भी नेतृत्व बदलना एक विनाशकारी बुरा विचार होगा, और हम पूरी तरह से अर्थव्यवस्था को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने जा रहे हैं।” इसे ट्रस को बदलने की साजिश के खिलाफ कंजर्वेटिव पार्टी को स्पष्ट चेतावनी के तौर पर देखा जा रहा है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + twelve =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।