अडाणी समूह के इजराइल में प्रवेश के कार्यक्रम में शामिल होंगे प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू

हाइफा बंदरगाह के जरिये अडाणी समूह के इजराइल में सफलता से कदम रखने का जश्न मनाने के लिए यहां मंगलवार को आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भी शरीक होंगे।

हाइफा बंदरगाह के जरिये अडाणी समूह के इजराइल में सफलता से कदम रखने का जश्न मनाने के लिए यहां मंगलवार को आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भी शरीक होंगे। बंदरगाह के अधिग्रहण को ‘रणनीतिक खरीद’ के तौर पर देखा जा रहा है और यह देश के किसी भी क्षेत्र में संभवत: सबसे बड़ा विदेशी निवेश है।
इस कार्यक्रम में अडाणी समूह के संस्थापक एवं चेयरमैन गौतम अडाणी भी शामिल होंगे। अडाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकनॉमिक जोन (एपीएसईजेड) और इजराइल के गादोत समूह के संघ ने इजराइल में हाइफा बंदरगाह के 1.18 अरब डॉलर में निजीकरण के लिए पिछले वर्ष जुलाई में बोली जीती थी।
खरीद की प्रक्रिया इस वर्ष 11 जनवरी को पूरी की गई जिसके बाद से बंदरगाह के अद्यतन का कार्य पूरे जोरशोर से चल रहा है। इस साझेदारी में भारतीय भागीदार अडाणी की हिस्सेदारी 70 प्रतिशत और स्थानीय साझेदार का हिस्सा 30 फीसदी है। हाइफा बदंरगाह शिपिंग कंटेनर के मामले में इजराइल का दूसरा सबसे बड़ा पोत और पर्यटक क्रूज शिप के मामले में सबसे बड़ा बंदरगाह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + fourteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।