Search
Close this search box.

रूस के रक्षा मंत्रालय ने दी जानकारी, काला सागर में मोस्कवा जहाज के डूबने से एक सैनिक की मौत, 27 जवान लापता

पिछले हफ्ते काला सागर में डूबे रूसी मिसाइल क्रूजर मोस्कवा को बचाने के लिए संघर्ष कर रहे एक सैनिक की मौत हो गई और चालक दल के 27 अन्य सदस्य लापता हो गए।

रूस और यूक्रेन में जारी भीषण युद्ध के बीच पिछले हफ्ते काला सागर में डूबे रूसी मिसाइल क्रूजर मोस्कवा को बचाने के लिए संघर्ष कर रहे एक सैनिक की मौत हो गई और चालक दल के 27 अन्य सदस्य लापता हो गए। ये जानकारी रूस के रक्षा मंत्रालय ने दी। मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि, रूस के काला सागर बेड़े के प्रमुख मोस्कवा के चालक दल के बाकी 396 सदस्यों को क्षेत्र के अन्य जहाजों में ले जाया गया और सेवस्तोपोल पहुंचाया गया।
आग लगने का कारण क्षतिग्रस्त हुआ था मोस्कवा  : रूस
मंत्रालय ने मृतकों और लापता लोगों के परिवारों और दोस्तों को सभी जरूरी सहायता प्रदान की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, एक सर्वेक्षण के अनुसार, मोस्कवा चालक दल के अधिकांश सदस्य काला सागर बेड़े में सेवा जारी रखना चाहते हैं। रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि, 13 अप्रैल को आग लगने के कारण जहाज पर गोला-बारूद के विस्फोट से मोस्कवा गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गया था और एक दिन बाद यह समुद्र में डूब गया, जब इसे एक बंदरगाह पर खींचा जा रहा था।

1650687755 ship

नेप्च्यून एंटी-शिप क्रूज मिसाइल का किया था इस्तेमाल : यूक्रेन
इस मामले में यूक्रेनी पक्ष ने कहा था कि, उसके सीमा रक्षकों ने मोस्कवा को बहुत गंभीर क्षति पहुंचाने के लिए नेप्च्यून एंटी-शिप क्रूज मिसाइलों का इस्तेमाल किया था। हालंकि रूस ने इन सभी बातों से इंकार किया था।  उन्होंने बयान दिया था कि, यह जहाज यूक्रेन की मिसाइल से नहीं बल्कि आग लगने के कारण क्षतिग्रस्त हुआ था जिस कारण यह डूब गया।  गौरतलब है कि, मोस्कवा जहाज का डूबना रूस के लिए किसी झटके नहीं है।  यह जहाज करीब 672 फुट लंबा था जिसमे कई तरह की मिसाइले तैनात थी।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten + 14 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।