रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा- परमाणु युद्ध का खतरा बढ़ा

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि परमाणु युद्ध का खतरा बढ़ रहा है, लेकिन जोर देकर कहा कि मॉस्को ‘पागल’ नहीं है, वह पहले परमाणु हथियारों का इस्तेमाल नहीं करेगा।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने औपचारिक रूप से स्पष्ट किया कि विश्व  में अभी तक परमाणु युद्ध का खतरा थम नहीं रहा है इसके बढ़ने की आंशका है। लेकिन दूसरी तरफ यह कह कि मॉस्को पागल नहीं है वह सबसे पहले परमाणु हथियारों का प्रयोग नहीं करेगा। 
पश्चिमी देशों पर भड़के पुतिन, बोले- जैसे भारत को लूटा, रूस को भी लूटना  चाहते हैं - Russian President Vladimir Putin mentions plundering of India  by west in his Ukraine Annexation speech
रूस की वार्षिक मानवाधिकार परिषद की बैठक में पुतिन ने कहा कि यूक्रेन में युद्ध एक लंबी प्रक्रिया हो सकती है। मॉस्को से वीडियो लिंक के जरिए परमाणु युद्ध की संभावना पर बात करते हुए पुतिन ने चेताया, ऐसा खतरा बढ़ रहा है, इसे छिपाना गलत होगा। लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि रूस किसी भी परिस्थिति में हथियारों का पहले इस्तेमाल नहीं करेगा और अपने परमाणु शस्त्रागार से किसी को भी धमकी नहीं देगा।
Russian President Vladimir Putin expressed condolences families killed  bridge accident Gujarat Morbi - International news in Hindi - मोरबी पुल  हादसे पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने जताया शोक, घायलों के ...
 मिली जानकारी के मुताबिक  राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि रूस के पास दुनिया में सबसे आधुनिक और उन्नत परमाणु हथियार हैं और उन्होंने अपनी परमाणु रणनीति की तुलना अमेरिका से की, जिसके बारे में उन्होंने कहा कि वह अन्य क्षेत्रों पर अपने परमाणु हथियारों का पता लगाकर रूस से आगे निकल गया था। हमारे पास अन्य देशों के क्षेत्र में सामरिक सहित परमाणु हथियार नहीं हैं, लेकिन अमेरिकियों के पास तुर्की और कई अन्य यूरोपीय देशों में हैं, उन्होंने कहा। पुतिन ने पहले जोर देकर कहा था कि रूस के परमाणु सिद्धांत में केवल परमाणु हथियारों के रक्षात्मक उपयोग की अनुमति है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − 14 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।