एस. जयशंकर कनाडा की विदेश मंत्री से मिले, यूक्रेन विवाद पर की चर्चा

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को कनाडा की विदेश मंत्री मिलानी जोली से मुलाकात की और यूक्रेन विवाद समेत अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की। यह मुलाकात ईस्ट एशिया समिट से इतर हुई।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को कनाडा की विदेश मंत्री मिलानी जोली से मुलाकात की और यूक्रेन विवाद समेत अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की। यह मुलाकात ईस्ट एशिया समिट से इतर हुई।
एक ट्वीट में कहा गया है, ‘पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के मौके पर कनाडा की विदेश मंत्री मिलानी जोली से मिलकर अच्छा लगा। यूक्रेन संघर्ष, भारत-प्रशांत, द्विपक्षीय सहयोग और सामुदायिक कल्याण पर चर्चा की। वीजा चुनौतियों से निपटने के लिए उठाए जा रहे कदमों की सराहना की।’
जयशंकर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से बैठक की एक तस्वीर भी ट्वीट की। इससे पहले, उन्होंने यूक्रेन के विदेश मंत्री दमित्रो कुलेबा से मुलाकात की और यूक्रेन-रूस संघर्ष, अनाज की पहल और परमाणु चिंताओं पर चर्चा की।
उन्होंने ट्वीट किया, ‘यूक्रेन के विदेश मंत्री दमित्रो कुलेबा से मिलकर खुशी हुई। हमारी चर्चा में संघर्ष, अनाज की पहल और परमाणु चिंताओं में हाल के घटनाक्रम शामिल थे। मंत्री ने सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालाकृष्णन और इंडोनेशियाई विदेश मंत्री रेटनो मासुर्डी के साथ अपनी बैठक के बारे में भी ट्वीट किया। उन्होंने मुलाकात की तस्वीरें ट्विटर पर शेयर कीं।’
विदेश मंत्री एस. जयशंकर और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ आसियान-भारत स्मारक शिखर सम्मेलन और नोम पेन्ह में आयोजित होने वाले 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए कंबोडिया में हैं। अपनी पहली विदेश यात्रा में, उपराष्ट्रपति 11 नवंबर को कंबोडिया पहुंचे जहां नोम पेन्ह हवाईअड्डे पर कंबोडिया के दूरसंचार मंत्री चिया वंदेथ और अन्य गणमान्य लोगों ने उनका स्वागत किया।
उपराष्ट्रपति अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान आसियान भारत स्मारक शिखर सम्मेलन और 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन सहित कई कार्यक्रमों में भाग लेने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।