दक्षिण कोरिया ने चीनी यात्रियों पर फरवरी के आखिरी तक लगाया बैन,कोराना को लेकर लिया फैसला

दक्षिण कोरिया जाने वाले चीनी यात्रियों के लिए प्रवेश पर चीनी यात्रियों फरवरी के अंत तक बढ़ा दिया गया है।

दक्षिण कोरिया जाने वाले चीनी यात्रियों के लिए प्रवेश पर प्रतिबंध फरवरी के अंत तक बढ़ा दिया गया है। दरअसल इसके पिछे का कारण चीन में चंद्र नव वर्ष की छुट्टियों के बाद कोविड-19 के प्रसार में वृद्धि की आशंकाओं के मद्देनजर यह फैसला किया है। बता दें कि इससे पहले भी चीन इस पाबंदी की आलोचना कर चुका है जिसके बाद दक्षिण कोरिया ने यह फैसला दूसरी बार लिया है चीन ने आरोप लगाए है कि कोरोना बिमारी को लेकर उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है। 
वीजा देने पर लगी रोक
दक्षिण कोरिया ने जनवरी की शुरुआत में चीन में स्थित अपने महावाणिज्य दूतावासों में छोटी अवधि के वीजा जारी करने पर रोक लगा दी थी। उसने दिसंबर में चीन में प्रतिबंधों में ढील के बाद कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी और वायरस के नए स्वरूपों के सामने आने की आशंकाओं के मद्देनजर यह कदम उठाया था।
दक्षिण कोरिया ने दिए आदेश 
दक्षिण कोरिया ने चीन, हांगकांग और मकाऊ से आने वाले सभी यात्रियों के लिए प्रस्थान से 48 घंटे पहले तक की अवाधि में कराई गई कोविड जांच की नकारात्मक रिपोर्ट पेश करना अनिवार्य कर दिया था। इन यात्रियों की दक्षिण कोरिया पहुंचने पर नए सिरे से कोविड जांच भी की जा रही है। दक्षिण कोरिया की तरफ से लगाए गए प्रतिबंधों के जवाब में चीन ने भी वहां के यात्रियों के लिए छोटी अवधि के वीजा जारी करने पर रोक लगा दी थी। इससे दक्षिण कोरिया में व्यापार गतिविधियां बाधित होने को लेकर चिंताएं बढ़ गई थीं, जो बड़े पैमाने पर चीन को किए जाने वाले निर्यात पर निर्भर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।