Search
Close this search box.

चीन में चल रहे ‘कोविड’ प्रदर्शन को लेकर White House ने तोड़ी चुप्पी- कह डाली यह बात

व्हाइट हाउस ने सोमवार को कहा कि अमेरिका चीन में शांतिपूर्ण प्रदर्शन के अधिकार के लिए खड़ा रहेगा और उसका समर्थन करना जारी रखेगा।

चीन में जीरो कोविड पोलिसी नीति लागू हो रखी है जिसमें देश की आम जनता को सरकार की तरफ से घरों में रहने के लिए निर्देश दिए गए है। क्योंकि चीन में फिर एक बार कोविड ने दस्तक दे दी और जिनपिंग सरकार इसे रोकने में असफल रही है। जिसकों लेकर जनता का आक्रोश चीनी सरकार पर फूट पड़ा है। आम जनता सरकार के विरूद्ध सड़कों पर बड़े ही व्यापक तौर से प्रदर्शन करनें में लगी हुई है। इसी को लेकर व्हाइट हाउस ने सोमवार को औपचारिक रूप से कहा कि यूएसए चीन में शांतिपूर्ण प्रदर्शन के लिए अधिकार के लिए हमेशा खड़ा रहेगा और उसका समर्थन करना जारी रखेगा।  
प्रोटेस्ट के बाद नरम पड़े चीन के तेवर, मास टेस्टिंग और लॉकडाउन में ढील,  लेकिन नहीं हटेगी जीरो कोविड पॉलिसी - China Zero Covid Policy to Stay but  relaxes curbs after ...
व्हाइस हाउस ने कहा, लोगों को शांतिपूर्ण तरीकें से विरोध करना चाहिए
व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के रणनीतिक संचार समन्वयक जॉन किर्बी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अमेरिका चीन में हो रहे घटनाक्रमों पर करीब से नजर रख रहा है। किर्बी ने कहा, ‘‘दुनिया भर में शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के लिए हमारा संदेश एक समान और वही है कि लोगों को इकट्ठा होने और नीतियों या कानूनों का शांतिपूर्वक विरोध करने का अधिकार दिया जाना चाहिए।’’
व्हाइट हाउस, White House Facts: पूरे 8 साल में बना था 132 कमरें, 35 बाथरूम  वाला 6 मंजिला व्हाउट हाउस, जानें 10 रोचक बातें - get the list of amazing  facts about white house ...
विरोध प्रदर्शन पर व्हाइस हाउस ने बनाए रखी है नजर
कोविड-19 के कारण लागू सख्त प्रतिबंधों को लकर चीन सरकार के खिलाफ समूचे देश में प्रदर्शन हो रहे हैं।उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘हम स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए हैं जैसा कि आप हमसे उम्मीद करते हैं। हम एक बार फिर शांतिपूर्ण प्रदर्शन के साथ खड़े हैं और उसका समर्थन करते रहेंगे।’’किर्बी ने कहा कि अमेरिका ने इस वक्त चीन को किसी प्रकार की मदद देने की पेशकश नहीं की है। उन्होंने कहा, ‘‘हम दुनियाभर में कोविड-19 रोधी टीकों के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता हैं। हमारे टीकों को प्राप्त करने में न तो चीन की कोई दिलचस्पी दिखी है और न ही उससे कोई अनुरोध मिला है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।